YRKKH 22th October Written Update 
YRKKH 22th October Written Update

YRKKH 22th October Written Update | Yeh Rishta Kya Kahlata Hai 22th October written update | Yeh Rishta Kya Kahlata Hai 22th October 2021 full episode written update

YRKKH 22th October Written Update | Yeh Rishta Kya Kahlata Hai 22th October written update | Yeh Rishta Kya Kahlata Hai 22th October 2021 full episode written update | Yeh Rishta Kya Kahlata Hai Written Update | Yeh Rishta Kya Kahlata Hai Upcoming Twist

Yeh Rishta Kya Kahlata Hai Watch On Hotstar

YRKKH 22th October Written Update  ये रिश्ता क्या कहलाता है के आज के एपिसोड में आप सभी देखेंगे कि सीरत अक्षु से कहती है अक्षु तुम रो मत आरोही छोटी है ना उसे समझ नहीं है इन सब बातों के लेकिन मम्मा को सब समझ में आता है मुझे पता है कि तुम कुछ भी दिखावे के लिए नहीं करती हो तुम मुझसे प्यार करती हो दिल से करती हूं मेरे के लिए करती हो किसी को इंप्रेस करने के लिए नहीं तभी सुहासिनी भी कहती है हां

आरोही अक्षरा बचपन से ही सीरत का ख्याल रखती है और सिर्फ सीरत का ही नहीं तुम्हारा भी कितना ख्याल रखती है प्यार करती है वो तुमसे और प्यार के बदले प्यार देने के बजाय तुमने उसे बटरिंग का नाम दिया

बहुत गलत किया ये तुमने बेटा इतना सुनकर आरोही रोने लगती है तभी सीरत आरोही से कहती है अब क्यों रोने लगी क्या कहा मिमी ने तुम्हें समझा ही तो रही थी ना तभी आरोही कहती है अक्षु रोई तो उसे प्यार किया और मैं रो रही तो मुझे डांट रही हो मतलब आप मुझसे प्यार ही नहीं करते हो मतलब मैं अच्छा परफॉर्म करूं फर्स्ट क्यों ना आउ ट्रॉफी क्यों ना जीत कर लाऊ फिर भी मुझे मिलेगी तो डांट ही ना और उसके बाद आरोही को सीरत अपने पास बुलाती है और उससे कहती है ऐसा नहीं है

मम्मा अपनी दोनों बेटियों से बहुत प्यार करती है और रही बात अक्षु की तो उसका स्वभाव ही ऐसा है वो सब की चिंता करती है तुम्हें याद नहीं है पिछले महीने जब तुम बीमार पड़ी थी तो अक्षु तुम्हारी सिरहाने रात भर बैठी रही थी और तुम्हारा होमवर्क पूरा करने में भी तुम्हारी हेल्प की थी हां उसका और मेरा खून का रिश्ता नहीं है लेकिन दिल का रिश्ता है और वो भी बहुत गहरा ये अपना पराया सगा सौतेला ये सब मानने पर डिपेंड करता है आरोही और इसलिए ये सारी बातें भूल जाओ

और बिल्कुल पहले जैसी हो जाओ जैसे तुम दोनों 2 दिन पहले थे और उसके बाद सिरत बात को बदलती है और कहती है कि इन सारी बातों में तो मैं एक जरूरी बात कहना ही भूल गई मुझे अक्षरा डांस एकेडमी के बच्चों के लिए कुछ गिफ्ट लेने थे और मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था तो मैंने सोचा था कि तुम दोनों की हेल्प मांग लूंगी लेकिन इन सब बातों में तो मैं भूल ही गई अब मुझे दादी से डांट पड़ेगी तभी सुहासिनी भी कहती है क्या सिरत मैंने तुम्हें इतनी बड़ी जिम्मेदारी थी

और तुम भूल गई तभी आरोही और अक्षु कहती है कि आप चिंता मत करिए मिमी मैं मामा की हेल्प करूंगी और सब कुछ जल्दी जल्दी से हो जाएगा उसके बाद आरोही और अक्षु दोनों कपड़ा चेंज करने के लिए अपने रूम में जाते हैं तभी सुहासिनी सीरत से कहती है अच्छा हुआ सिरत जो तुमने इस सिचुएशन को इतने अच्छे से हैंडल कर लिया। और वही अक्षु आरोही की ट्रॉफी को देख रही होती है तभी सीरत अक्षु के लिए ट्रॉफी लेकर आती है और उसे बहुत ही अच्छी बेटी बनने के लिए ट्रॉफी देती है

जिसे देखकर अक्षु बहुत ज्यादा खुश हो जाती है और सीरत अक्षु से कहती है तुम आरोही की बातों को दिल पर मत लेना तुम तो जानती हो ना कि उसके नाक पर गुस्सा रहता है मैं जानती हूं कि आरोही तुमसे बात नहीं कर रही है लेकिन मैं उसे जाकर बात करूंगी ना तभी अक्षु कहती है कि आप क्यों इतना टेंशन ले रही है मम्मा आरोही मेरी बहन है भले ही वो मुझसे बात ना करें लेकिन मैं उसे जरूर बात करूंगी जिसे सुनकर सीरत बहुत ज्यादा खुशी होती है

वही आरोही ये सब देखकर बहुत गुस्सा हो जाती है और आकर बेड पर सो जाती है जिसे देखकर सीरत और अक्षु चौक जाते हैं वहीं दूसरी और मनीष आरोही के बदलते हुए स्वभाव को देखकर बहुत ज्यादा परेशान होते हैं। तभी स्वर्णा मनीष से पूछती है कि क्या हुआ मनीष आप क्या सोच रहे हैं। मनीष कहते हैं कि सीरत को अक्षु और आरोही को सच नहीं बताना चाहिए था। इन दोनों को सच्चाई जानने के बाद इन दोनों के रिश्ते पर असर पड़ सकता है

तभी स्वर्णा मनीष से कहती है कि सच्चाई एक ना एक दिन तो दोनों के सामने आने ही थे ना तभी सुरेखा उधर से आती है और कहती है कि देखी दीदी आरोही मैं गोयनका का खून है इसलिए उसका दिमाग बहुत ही तेज है लेकिन उसमें शीला का भी खून है इसलिए तो उसकी जुबान अभी से ही कैसे की तरह चलती है तभी उधर से सीरत सुनती है और कहती है बस कीजिए चाची जी आप ऐसा कैसे बोल सकती हैं आरोही भी इसी खानदान की बेटी है

इसलिए आरोही और अर्जुन की तुलना करना बंद कीजिए तभी मनीष सीरत से आरोही और अक्षय को दोनों एक तरह का प्यार देने को बोलते हैं और एक तरह का संस्कार देने को बोलते हैं। वहीं दूसरी ओर अक्षु आरोही को मनाने की की कोशिश करती है। लेकिन आरोही अक्षु से बात करने से मना कर देती है और वो अक्षु को उससे दूर रहने के लिए कहती है और साथ ही साथ आरोही अक्षु उसे कह देती है कि तुम मुझसे दूर रहो वरना मैं कुछ बोल दूंगी तो फिर तुम रोने लगोगी। और इतना कहकर आरोही वहां से चली जाती है

और फिर आगे सीरत अक्षु और आरोही अक्षरा अकादमी के बच्चों के लिए गिफ्ट्स पैक करते हैं। सीरत उन दोनों से कहती है कि मुझे ना चुपचाप काम करने वाले लोग बहुत ही ज्यादा बोरिंग लगते हैं और मैं तो ऐसा काम नहीं करती हूं मुझे तो मस्ती कर के काम करने में मजा आता है और उसके बाद सिरत आरोही और अक्षय के साथ मस्ती करने लगती है और फिर आरोही और अक्षय का पैसा हो जाता है मनीष उन्हें देखकर बहुत खुश होते हैं। तभी सुहासिनी उधर से आती है और सारे गिफ्ट को पैर देखकर बहुत खुश होती है और आरोही और अपनों से कहती है

तुम दोनों ने हमारा इतना बड़ा काम कर दिया इसलिए हम तुम दोनों को भी गिफ्ट देना चाहते हैं और उसके बाद सुहासिनी अक्षु और आरोही दोनों को एक-एक गिफ्ट देती हैं। तभी आरोही पूछती है कि आप लोगों ने अक्षरा के नाम पर डांस एकेडमी क्यों खोला तभी सारे परिवार मिलकर आरोही को बताते हैं कि डांस एकेडमी अक्षरा के नाम पर नहीं बल्कि नायरा की मां अक्षरा के नाम पर है तभी आरोही कहती है तो मेरी भी नानी के नाम का बॉक्सिंग अकैडमी क्यों नहीं खोले आप लोग और उसके बाद आरोही शीला के बारे में पूछती हैं।

आरोही की बात सुनकर सभी लोग चौक जाते हैं इतने में ही डांस एकेडमी के बच्चे और मैनेजर वहां पर आते हैं सभी लोग उन बच्चों का स्वागत करते हैं और उन्हें गिफ्ट देते हैं और अज्जू डांस एकेडमी के मैनेजर से अपनी मम्मा नायरा और अपनी नानी अक्षरा का डांस वीडियो भेजने को कहती है । और उसके बाद डांस एकेडमी का मैनेजर सीरत को बताता है कि शीला उसके अकेडमी में नौकरी मांगने के लिए आई थी लेकिन सीरत मैनेजर से शीला को नौकरी देने से मना करती है इतने नहीं सिला घर में आ जाती है

और आरोही को देखकर एकदम इमोशनल हो जाती है और सीरत से कहती है तुम इतने पत्थर दिल कैसे हो सकती हो मेरी हालत इतनी ज्यादा बुरी है और फिर भी तुम मेरी मदद करने से इंकार कर रही हो तभी फिरत कहती हैं मैंने आपसे पहले ही कह दिया है कि मेरा आपसे कोई रिश्ता नहीं है और आप यहां पर क्यों आई हैं। और आज के एपिसोड का दी एन्ड वहीं पर हो जाता है वही कल के एपिसोड में आप सभी देखेंगे कि शीला सारे गोइंग का परिवार और अक्षरों के खिलाफ आरोही को भड़का रही होती है वह आरोही को समझाती है कि सारे गोइंग का फैमिली सिर्फ और सिर्फ अक्षरा को ही प्यार करते हैं

Leave a Reply