Udaariyaan 25th October 2021 written update
Udaariyaan 25th October 2021 written update

Udaariyaan 25th October 2021 written update | Udaariyaan 25th October full episode today written update

Udaariyaan 25th October 2021 written update | Udaariyaan 25th October full episode today written update | udaariyaan 25th October written update in hindi || Udaariyaan Written Update | udaariyaan upcoming twist

Watch Udaariyaan full episode in voot

Udaariyaan 25th October 2021 written update सीरियल उदारियाँ के आज के एपिसोड में आप सभी देखेंगे कि जस तेजो के साथ बदतमीजी करता है और उसे कहता है मैं तुम्हारा पति हूं और हक बनता है मेरा तुम पर इतने दिनों बाद मिली हो मेरे पर कुछ तो रहम करो क्या कर रही हो तुम मेरे साथ तेजो कहती है छोड़ मुझे और तेजो की नजर टेबल पर पड़े चाकू पर पड़ती है और तेजो जस को लात मारकर नीचे गिरा देती है और चाकु लेने के लिए दौड़ती है लेकिन जस तेजो का पैर पकड़ कर उसे गिरा देता है पर तेजो भी जस को धक्का देती है और जाकर चाकू उठा लेती है और जस से कहती है

वही रहना और खबरदार जो मेरे पास भी आने की कोशिश किया देखकर मेरे हाथ में चाकू है और तू अपने जो घुटनों पर है इससे पहले कि मैं कुछ ऐसा कर जाओ जिससे कि बाद में पछतावा हो और यह घटिया हरकतें बंद कर दो और अगर तुझे लग रहा है कि मैं मजाक कर रही हूं तो आजमा के देख ले तू जैसे इंसान को मार कर मुझे फांसी चढ़ने पर जरा भी अफसोस नहीं होगा तभी जस कहता है कैसी बातें कर रही है बेबी हक बनता है मेरा तुझ पर तभी तेजो कहती है

अरे एक कागज के टुकड़े ने अजीत सारे हक वे दिए और अगर उस कागज के हिसाब से मैं तो क्या तुम मेरे साथ जबरदस्ती करेगा तभी गुस्से में कहता है हां करूंगा और आज पूरी रात तेरे साथ सुहागरात तभी तेजो जब से कहती है जब एक औरत को कमजोर मत समझना जल्द अगर वह कहता है चंडी भी हाथ लगा कर देख अगर तुझे मारना दिया तो मेरा नाम तेजो नहीं जस कहता है देखो तुम गलती कर रही हो तभी तेजो कहती गलती तो मुझसे पहले हुई थी

और वही गलती में सुधारने की कोशिश कर रही हूं और ये तब सुधरेगी जब तू मरेगा तभी चालाकी से जस तेजो के हाथ से चाकू छीनने की कोशिश करता है लेकिन तभी पीछे से सती बिजी और चाची जी आ जाती हैं और सती जस के माथे पर पीछे से डंडे से बार करती है इधर फतेही तेजो के घर के नीचे आ जाता है लेकिन देखता है कि तेजो फिर घर के गेट में ताला लगा होता है ताला देखकर फतेह चौक जाता है वही सभी औरतें जस के ऊपर खंजर लेकर खड़ी हो जाती हैं

सती कहती है बहुत मर्द बनता है न तू ये मत भूल कि तूझ जैसे मर्द को जन्म भी हम जैसे औरतें ही देती हैं और तुम्हें पता नहीं जब औरतें चंडी का रूप लेती हैं ना तो तेरे जैसे 6 फूटे भी चूहे बना देती है इधर फतेह तेजो को फोन करता है और सोचता है कि तेजो का घर भी बंद है

और उसका फोन भी स्विच ऑफ है लेकिन तेजो के कमरे की लाइट क्यों ऑन है जरूर कुछ तो बात है तेजो और बीजी सती और चाची जी को देखकर जस समझ जाता है कि अभी कुछ भी करना बेवकूफी होगा तब जस बड़े ही शांति से चादर लेकर गेस्ट रूम में सोने के लिए चला जाता है

तभी बेबे कहती है कि तुम दोनों तेजो के पास रहो मैं उस कमीने को देखती हूं इधर फतेह को कुछ समझ नहीं आता है तभी फतेह दरवाजा से चड़के सीधे तेजो के रूम में आ जाता है तेजो डर जाती हैं तभी फतेह बताता है कि मैं हूं तेजो जैसे ही तेजो फतेह को देखती है तेजो रोते हुए फतेह के गले लग जाती है फतेह तेजो से पूछता है तेजो ये सब क्या है बात क्या है बताओ मुझे तभी तेजो सारी बातें फतेह को बताती है तेजो की बात सुनकर फतेह को बहुत गुस्सा आता है

और फतेह तेजो से कहता है तेजो तुमने इतना सब बर्दाश्त ही क्यों किया मैं छोडूंगा नहीं इस कमीने को और उसके बाद का फतेह जस को मारने के लिए जाने लगता है लेकिन तेजो फतेह को समझाती है कि ये टाइम अभी जोश में नहीं होश में काम लेने का है अगर हमने कुछ भी उल्टी-सीधी हरकत की ना तो 6 दिन के लिए कोर्ट बंद है हम हमारी फैमिली को छोड़ा भी नहीं पाएंगे फैमिली का मैटर है इसलिए मना कर नहीं हूं प्लीज समझो हम उसका कुछ नहीं बिगाड़ सकते उसने खेल ही ऐसा खेला है

हर बाजी हम पर उल्टी पड़ जाएगी फतेह एकदम गुस्से में रहता है तभी तेजो कहती है फतेह देखो हमें हर कदम फूंक-फूंक के रखना पड़ेगा क्योंकि अगर हमने कुछ भी उल्टा सीधा कर दिया ना कोई भी गलती कर दी ना तो वो हमारी गलती को हमारे खिलाफ यूज़ करेगा और हम फंस जाएंगे तभी फतेह कहता है इतना सब कुछ हो गया काश कि मैं पहले आ जाता तभी जस बहुत सोचने के बाद तीनों से कहता है तेजो इस जस नाम की मुसीबत को तुम्हारी लाइफ से हमेशा के लिए निकालने का एक आईडिया है मेरे पास मेरे साथ कल सुबह 10:00 बजे उनसे स्टेशन चलना

मैं तुम्हें बताऊंगा तेजो कहती है लेकिन फतेह जो कुछ भी यहां पर हुआ तुम प्लीज उसके बारे में फैमिली को कुछ मत बताना वह लोग और रोटी परेशान है और परेशान हो जाओगे यह जो भी प्रॉब्लम हुई है ना हम दोनों उससे मिलकर निपट लेंगे कहते कहते ठीक है मैं किसी को नहीं बताऊंगा और उसके बाद तेजो कहती है फतेह से अब तुम जाओ फतेह लेकिन फतेह कहते नहीं तेजो मैं तुम्हें इस हालत में छोड़कर उस दरिंदे के पास अकेले छोड़कर नहीं जा सकता

तेजो कहती है मेरे पास चाकू है फतेह मैं सब कुछ संभाल लूंगी अगर उसने तुम्हें यहां पर देख लिया तो बात और ज्यादा बिगड़ जाएगी इसलिए प्लीज तुम तुम चले जाओ बाकी लोग हैं ना मेरे साथ हम सभी लोग एक दूसरे का सहारा बनकर खड़े हैं तेजो की बात मानकर फतेह वहां से चला जाता है वही अगली सुबह जैसे ही जस की नींद खुलती है बेबी जस के लिए नींबू पानी लेकर आती है उससे कहती है लो नींबू पानी ले लो मैं तुम्हारे लिए लेकर आई हूँ कल रात को तुम्हें बहुत चड़ गई थी पीलो नशा उतर जाएगा

तभी जस नींबू पानी लेता है और बेबे से कहता है आपने इसमें कुछ मिलाया तो नहीं है ना तभी बेबे कहती है नहीं और इधर से चाची बहुत खुश होती है क्योंकि उन्होंने जस के नींबू पानी में नींद की गोलियां मिला दी होती है वहीं दूसरी ओर फतेह तेजो को लेने के लिए आता है और तेजो को लेकर पुलिस स्टेशन पहुंचता है ते जो अपने परिवार वालों से जाकर मिलती है तभी रूपी कहते हैं कि मुझे अपने आप पर बहुत लानत है कि मैं अपनी बेटी की रक्षा नहीं कर पा रहा हूं

तभी तेजो कहती है आप लोग बिल्कुल भी चिंता मत कीजिए मैं ठीक हूं वही फते इंस्पेक्टर से बात कर रहा होता है लेकिन इंस्पेक्टर कहते हैं अभी हम कुछ नहीं कर सकते आप लोगों के पास कोई सबूत नहीं है और हमने अपनी आंखों से इन लोगों को उसे पीटते हुए देखा है तभी तेजो वहां पर आती है और कहती है हमारे पास कोई और रास्ता नहीं है इंस्पेक्टर साहब कोई तो रास्ता होगा आप बताइए तभी इंस्पेक्टर बताते हैं कि इसकी मां सेंट्रल जेल में है आप वहां जाकर कुछ पता कर सकते हैं

फतेह और तेजो सेंट्रल जेल जाने का सोचते हैं फतेह कहता है पापा का जान पहचान है सेंट्रल जेल में उनसे बात बन सकता है और उसके बाद फतेह खुशवीर को फोन करके सारी बातें बताता है खुशवीर कहते हैं कि आज अचानक से तुम्हें तेजो की इतनी चिंता कैसे होने लगी तभी फतेह कहते हैं पापा अभी यह सारी बात करने का टाइम नहीं है आप एमएलए थे और हमने पुलिस वालों के लिए इतना कुछ किया है तो वह लोग हमारी मदद जरूर करेंगे

और उसके बाद खुशवीर उन लोगों से बात कर लेते हैं तेजो और फतेह दोनों सेंट्रल जेल पहुंचते हैं तभी इंस्पेक्टर तेज हो और फतेह को फाइल दे देते हैं और उनसे कहते इस भाई से आप लोगों को कुछ मदद मिल सकेगी तभी फतेह और देशों को उसकी मां और रोहतक का एड्रेस मिलता है थे जो कहती है कि हमें वही जाकर कोई सबूत मिल सकता है और फतेह और तेजो वहां जाने के लिए निकलते हैं तभी फतेह देखता है कि तेजो बहुत परेशान होती है फतेह तेजो से पूछता है क्या हुआ तेजो तुम इतनी परेशान क्यों हो

तभी तेजो कहती है कुछ नहीं वो थोड़ा सर में बहुत ज्यादा दर्द है फतेह कहता है तुमने कुछ खाना खाया सुबह से तेजो नहीं कहती है तभी फतेह कहता है कि चलो पहले कुछ खा लो पर्दे जो कहती है नहीं मैं तुम्हारे साथ रोहतक चलूंगी और उसके खिलाफ सबूत ढूंढ दूंगी लेकिन फतेह कहता देखो हमें वहां जाने में बहुत टाइम लग जाएगा और फिर तब तक जस भी सारे घरवालों को परेशान करेगा तुम एक काम करो तुम घर जाओ और मैं रोहतक जाकर जरूर कुछ ना कुछ उसके बारे में पता करके ही लौटूंगा

और हो सकेगा तो आज शाम में ही मैं लौट जाऊंगा तब तक प्लीज तुम कुछ खा लो और उसके बाद सत्य और तेजो टी स्टॉल जाते हैं और वहां पर फतह तेजो के लिए चाय लेकर आता है लेकिन तेजो फतेह को देखकर एक बार फिर से अपनी पुरानी बातों को याद करती है और बहुत ज्यादा इमोशनल हो जाती है फतेह तेजो के कंधे पर हाथ रखकर कहता है तुम चिंता मत करो तेजो सब ठीक हो जाएगा इधर जस की नींद खुल जाती है और जस एक बार फिर से सभी लोगों के साथ बदतमीजी करने लगता है

और कहता है बताओ जल्दी से तेजो कहां गई है तभी सती कहती है कि आज उसे कॉलेज जाना बहुत जरूरी था क्योंकि उसके बच्चों का इंतिहान चल रहा है तभी जस कहता है उसकी जिंदगी का इंतिहान मैं ले रहा हूं और वह है कि बच्चों का इंतिहान ले रही है जल्दी से उसे बुलाओ तेजो फतेह से कुछ नहीं कहती है और गाड़ी में आकर बैठ जाती है फतेह कहता है मैं जानता हूं तेजो कि मैंने तुम्हें बहुत दुख दिए हैं

लेकिन अब मैं तुम्हें इन सारे आजाद करूंगा और उस जज को तुम्हारी जिंदगी से हमेशा हमेशा के लिए निकाल कर रहूंगा इसके लिए मुझे कुछ भी करना पड़े और इसी के साथ आज के एपिसोड का दि एंड वहीं पर हो जाता है

Leave a Reply