Udaariyaan 24th November full episode written update
Udaariyaan 24th November full episode written update

Udaariyaan 24th November full episode written update

Udaariyaan 24th November full episode Written Update, written Episode On Bollyjagat.in

Watch Udaariyaan full episode in voot

Udaariyaan 24th November full episode written update सीरियल उदारियाँ के आज के एपिसोड में आप सभी देखेंगे कि तेजो गिरने ही वाली होती है लेकिन फतेह उसे संभाल लेता है जिसे देखकर जैस्मिन का खून खौलने लगता है तेजो वहां से जाती है और और अपने आप को संभालती है और पानी पीती है तभी वहां पर जैस्मीन आती है और तेजो के कपड़े पर जूस गिरा देती है और उसका कपड़ा खराब कर देती है तेजो अपना कपड़ा साफ करने के लिए वहां से चली जाती है दे देते जो अपना कपड़ा साफ करके कमरे में आती है तभी उसे अपने और जैस्मिन की साथ की तस्वीर दिखाई देती है तेजो उस फोटो को अपने हाथ में लेती है

और अपने और जैस्मिन के साथ बिताए हुए पलों को याद करती है और फूट-फूट कर रोने लगती है तभी जैस्मिन वहां पर आ जाती है जैस्मिन को देखकर तेजो कहती है तू यहां पर क्या कर रही है तबीयत जैसमिन कहती है तू बता तुझे क्या चाहिए फतेह तेजो कहती है क्या बकवास कर रही है तभी जैस्मिन कहती है सच्ची बातें सिर्फ करती ही लगती है और कड़वी बातें बकवास ही लगती है मुझे ना सब समझ में आ रहा है सब तू ने जानबूझकर मुझे और फतेह को यहां बुलाया ना अपने उस मंगेतर को भिजवा कर

तभी तेजो कहती है ये ड्रामे की स्कीमें बनाना तेरा डिपार्टमेंट है मेरा नहीं तभी जैस्मिन कहती हैं और ड्रामा तो छोटी मोटी बात है आजकल तो तूने झूठे है और नकली इंगेजमेंट का सिलसिला शुरू किया है जिसे सुनकर तेजो चौक जाती है तभी जैस्मिन कहती है अरे क्या हुआ तेरे चेहरे का रंग क्यों उड़ गया बोल तभी तेजो कहती है मुझे नहीं पता कि ये तू क्या बोल रही है तभी जैस्मिन कहती है तो ठीक है मैं बता देती हूं तू और अंगद नकली इंगेजमेंट कर रहे हो क्या हुआ उड़ गई ना हवाइयां यही देखने ही तो आई हूं मैं

कि आखिर चल क्या रहा है तेरे दिमाग में और वो अंगद तेरे साथ ये सब कर क्यों रहा है बता तभी तेजो कहती है बता तो मैं दे दी लेकिन तुझे कुछ समझ में नहीं आएगा इसलिए छोड़ तभी जैस्मिन कहती है क्यों क्यों नहीं आएगा समझ सारे समझदारी का ठेका तूने ही ले रखा है क्या मुझे सब समझ में आ रहा है कि तू ये सब क्यों कर रही है इसलिए ना कि सारे घर वाले मेरे और फतेह की शादी में शामिल होकर हमें आशीर्वाद दे सके ऐसी कोई डील हुई होगी

तेरे पापा जी के साथ पर मुझे सच सच बता इसके पीछे तेरा क्या मकसद है तभी तेजो कहती है तू ये तो समझ गई कि मैं क्या कर रही हूं लेकिन यह कभी नहीं समझ पाएगी कि यह सब मैं क्यों कर रही हूं इसलिए तेरी भलाई इसी में है कि तू अपना मुंह बंद रख जैस्मिन कहती है मेरा मुंह बंद ही है अगर ढिंढोरा पीटना होता ना तो अभी तक पढ़ चुकी होती क्योंकि मैं जानती हूं कि फतेह की डोर अभी भी तेरे हाथ में है और मैं नहीं चाहती हूं कि फतेह को वापस से कुछ उल्टा सीधा पता लगे

और तेरे पास आकर वो आंसू बहाए बल्कि मैं तो खुश हूं ये सोच कर कि फतेह को सच में लगता है कि तू अपनी लाइफ में मुव आॕन कर रही है और इस वजह से उसका गिल्ट भी कम हो रहा है लेकिन तुझे तो हर जगह महान बनना होता है ना इसलिए तू यहां इतने में ही तेजो जैस्मिन पर चिल्लाती है और कहती है बस कर जैस्मिन और कब तक तुम मुझे अपना दुश्मन समझते रहेगि बहन हूँ तेरी याद है तुझे हम सगी बहने हैं और तेजो फोटो दिखाती है और कहती है देख इस फोटो को कितनी खुश थे हम कितना प्यार करते थे एक दूसरे से

एक दूसरे की दुनिया थे हम दोनों हम दोनों बहनों के प्यार का मिसाल देते थे लोग और तू मुझे दुश्मन समझती है तू कैसे भूल सकती है जैस्मिन कि मैं तेरी बहन हूँ लेकिन मैं शायद नहीं भूल पाई हूं कि तू मेरी बहन है और इसीलिए मैं ये सब कर रही हूं तू भले ही मुझसे नफरत कर सकती है जैस्मिन लेकिन मैं नहीं कर सकती हूं मैं आज तक तुझसे गुस्सा थी तुमने जो कुछ भी मेरे साथ किया था लेकिन मैं तुमसे नफरत नहीं कर सकती तेरी खुशी की आज भी परवाह है मुझे जैस्मिन कहती हां बहुत परवाह है तुझे

तभी तो तुझे मेरे शादी के मंडप में सगाई की अंगूठी पहननी है तभी तेजो रोते हुए कहती है तू पागल है क्या कितनी बार कहा है मैंने तुमसे कि पापा जी की ये शर्त है फिर भी तू क्यों मेरी बात पर यकीन नहीं कर रही हो तभी जैस्मिन कहती है बेचारी तेजो पापा जी के शर्त के आगे कुछ नहीं बोल पाई तभी तो ये ढोलकी ये संगीत नाच गाना ये सब कर रही थी तू अपनी नकली इंगेजमेंट की तैयारी के लिए प्लीज तेजो बस कर बस कर अपनी महानता और बलिदान का ड्रामा मैंने कभी नहीं कहा तुझसे ये सब करने को

तभी तेजो कहती है तेरे लिए नहीं कर रही हूं मैं मेरे लिए कर ही खुद के लिए कर रही हूं और ये दिन मेरे लिए सबसे बड़ा दिन है मेरे लिए सबसे बड़ा खुशी का मौका इसलिए दिल खोल कर इंजॉय कर रही हूं जानती है क्यों क्योंकि तेरे और फतेह की शादी से मुझे आजादी मिलेगी मेरी आजादी के लिए कर रही हूं मैं ये सब इन सब से दुखों से दूर जाना चाहती हूं इन सब परेशानियों से दुख से तुझसे फतेह से तेरी नफरत से सबसे दूर जाना चाहती हूं इसलिए कर रही हु और तू भी बहुत खुश होगी क्योंकि उसके बाद ना तुझे मेरी शक्ल कभी देखने नहीं मिलेगी जैस्मिन

तभी जैस्मिन कहती है काश में उतनी ही बेवकूफ होते जितना तुम मुझे समझती है लेकिन मैं उतने हो नहीं मुझे सब समझ में आता है कि तू क्या कर रही है और क्यों कर रही है तू ये सब इसलिए कर रही है क्योंकि तू आज भी फतेह से प्यार करती है इसलिए तू इतने सारे ड्रामे कर रही है बता चुप क्यों है बता ना तभी तेजो जोर से चिल्लाती है और कहती है हां मैं करती हूं प्यार मैं अभी भी फतेह से प्यार करती हूं लेकिन अब इन सब का कोई फायदा नहीं क्योंकि तेरी जगह कोई और लड़की भी रहती ना तो

मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता क्योंकि फतेह ने मेरा दिल दुखाया है खैर तू यह सारी बातें समझने के लिए अभी तुझे और नीचे आना पड़ेगा लेकिन तू तो भी बहुत आसमान पर है अभी तक तो तू अपने और फतेह के प्यार को भी नहीं समझ पाई तो मेरे प्यार को क्या समझेगी जिस दिन समझ जाएगी ना उस दिन तुझे सिर्फ अपने आप से नहीं जैस्मिन बल्कि फतेह से भी प्यार हो जाएगा और इतना कहकर तेजो वहां से चली आती है और अकेले में जाकर होने लगती है और जैस्मिन के बातों को याद कर रही होती है

सती सारी बातें सुन लेती है और तेजो के पास आती है और उसे संभालती है फिर कहती है तू उसके लिए मर भी जाएगी ना फिर भी उस मरजानिए को कोई फर्क नहीं पड़ेगा अब तो ऊपर वाले की लाठी ही उसे सुधार सकती है कल से तेरी नई जिंदगी शुरू होने जा रही है तू एक नए रिश्ते में बंधने जा रही है और कल से देखना मेरी बेटी की जिंदगी में कोई दुख नहीं आएगा वही फतेह भी रूपी और सती को बात करते हुए सुन लेता है पीछे से जैस्मिन भी आ जाती है और फतेह को देखती है कि फतेह तेजो और जैस्मिन की बातों को सुन रहा होता है

जैस्मिन उसे वहां से लेकर चली जाती है वही अगली सुबह जैस्मिन की सारी फ्रेंड्स उससे मिलने आते हैं तभी जैस्मिन कहती है तो फाइनली तुम्हारी मम्मी पापा को पता लग गया कि हमारी शादी सब की मर्जी से हो रही है और हमारी शादी में सारे परिवार वाले भी शामिल हो रहे हैं इसलिए उन्होंने तुम लोगों को आने दिया स्वीटी कहती है सॉरी जैस्मिन लेकिन जैस्मिन कहती है कोई बात नहीं चलो अच्छा है कम से कम मेरी शादी तो अच्छे से हो रही है पर मुझे ये तो बताओ कि तुम्हें ये सब पता कैसे लगा

किसने बताया फतेह कहता है अब तुम्हारी खुशी के लिए इतना तो कर ही सकता हूं जैस्मिन कहती है फतेह तुम थे तभी स्वीटी कहती है जैस्मिन कितनी लकी जो तुझे फतेह जैसा प्यार करने वाला हस्बैंड मिल रहा है जैस्मिन कहती है हां तो क्या वो अकेले प्यार करता है मुझसे मैं भी तो प्यार करती हूं उससे और उसके बाद जैस्मिन फतेह से कहती है फतेह तुम मुझे तैयार होने दोगे या नहीं जल्दी जाओ और सब कुछ अच्छे से देख लो तुम्हें याद है ना कि मेरी एंट्री एकदम अच्छे तरीके से होनी चाहिए

कोई भी कमी नहीं होनी चाहिए दोनों तरफ से फैन चलेंगे जिसने हमारे बाल उड़ेंगे फतेह कहता है जैस्मिन मैं हूं ना सब संभाल लूंगा तभी स्वीटी कहती है बात जैस्मिन क्या जादू कर रखा है तुमने फतेह तो तेरी उंगलियों पर नाचता है जैस्मिन कहती हां पति तो होते ही हैं अपनी पत्नियों के उंगलियों पर नाचने के लिए और फिर फतेह तो जैस्मिन संधू का पति है उसे तो उंगलियों पर नाचना ही है और उसके बाद जैस्मीन स्वीटी से कहती है छोटी मुझे ना तुझसे एक काम था तुम तेजो पर नजर रखना क्योंकि मुझे तो लगता है कि

अभी भी तेजो ने कुछ गड़बड़ करनी ही है लेकिन स्वीटी कहती है तू ज्यादा सोच रही है तेजो की शादी तो उस अंगद मान से हो रही है ना तू ज्यादा टेंशन मत ले आज तेरी शादी है तू बस अपनी शादी पर ध्यान दें वहीं दूसरी ओर फतेह जैस्मिन के एंट्री की तैयारी करवा रहा होता है वेडिंग प्लानर अपने आदमियों को समझाता है कि सब कुछ अच्छे से करना है और जब मैं खा लूंगा तब तुम लोग फूल पर जाना और फिर सारी चीजें ऑन कर देना किधर सिमरन माही और तेजो पार्लर से आते हैं सिमरन तेजो से कहती है

तेजो तुझे बुरा नहीं लगता तो सब के बारे में सोचती है पर तेरे बारे में कोई नहीं सोचता तेजो कहती है नहीं सिमरन दी ऐसी कोई बात नहीं है और फिर सभी लोग घर के अंदर आते हैं फतेह सिंह से फोन पर बात कर रहा होता है लेकिन जैसे ही फतेह तेजो को देखता है फोन रख देता है जैस्मिन सोचती है कि फतेह ने इतनी जल्दी में फोन क्यों रखा और जैसे ही थे जो वहां से गुजरती है तेजो का दुपट्टा फतेह की घड़ी में फंस जाता है और तभी वेडिंग प्लानर को खांसी आ जाती है और सारे फूल भेजो और फतेह के गिरने लगते हैं

वही जैस्मिन देख लेती और उसे बहुत गुस्सा आता है और उसके बाद जैस्मिन जोर से चिल्लाती है और वेडिंग प्लानर को जाकर पीटने लगती है और फिर एक बार फिर से जैस्मिन तेजो को बहुत ज्यादा सुनाती है और तेज हो से कहती है तुझे मेरी शादी पर पानी फिरने का बहुत शौक है ना रुक आज मैं तुझे बताती हूं और वही पर रखा बर्तन का पानी लेकर जैस्मिन जैसे ही तेजो पर डालने ही वाली होती अंगद वहां पर आ जाता है

और जैस्मिन के हाथ से पानी लेकर फेंक देता है और उससे कहता है आज आप की शादी है आज आप गुस्सा मत कीजिए जैसे तैसे करके फतेह जैस्मिन को कमरे के अंदर लेकर जाता है आज के एपिसोड का दी एंड वहीं पर हो जाता है

Leave a Reply