Udaariyaan 23th November full episode written update
Udaariyaan 23th November full episode written update

Udaariyaan 23th November full episode written update

Udaariyaan 23th November full episode written update | udaariyaan 23th November written update in hindi || Udaariyaan 23th November 2021 written update | Udaariyaan Written Update | udaariyaan upcoming twist

Watch Udaariyaan full episode in voot

Udaariyaan 23th November full episode written update सीरियल उदारियाँ के आज के एपिसोड में आप सभी देखेंगे कि सभी लोग एक साथ डांस कर रहे होते हैं तभी वहां पर अंगद जैस्मिन और फतेह के साथ पहुंचता है सभी लोग फतेह और जैस्मिन को एक साथ देख कर चौक जाते हैं तभी अंगत कहता है रुक क्यों गए आप सभी लोग आज तो डबल धमाका है हमारी और तेजो जी की सगाई के साथ-साथ मेरे दोस्त जैस्मीन और फतेह की संगीत सेरेमनी भी है

और उसके बाद अंगद तेजो के पास जाता है तभी तेजो अंगद से कहती है थैंक्यू अंगद जी तभी अंगद कहता है आपका हुकुम सर आंखों पर वही फतेह समझ जाता है कि ये सब तेजो ने हीं किया है

लेकिन वही फतेह और तेजो के घरवाले जैस्मिन और फतेह को वहां पर देख कर गुस्सा हो जाते हैं और कुछ वीर कहते हैं रूपी से की मैं बहुत थक गया हूं चलो चल कर बैठते हैं तभी जैस्मिन कहती है मुझे तो लग रहा है कि यहां पर भी सिर्फ और सिर्फ हमारी बेज्जती होने वाली है फतेह लेकिन फतेह जैस्मिन को समझाता है अरे अभी कल का शाम तो बाकी है ना और कल के शाम में तो सिर्फ और सिर्फ सब तुम्हें ही देखेंगे और इधर सभी घरवाले साइड में जाने लगते हैं

लेकिन तभी वहां पर तेजो ढोलक बजाने लगती है और डांस करने लगती है सभी लोग थे जोकर डांस देखने के लिए आगे आते हैं तभी तेजो सभी के साथ डांस करती है और जैस्मीन और फतेह को भी डांस करने को बुलाती है सभी लोग खूब डांस करते हैं और उसके बाद तेजो और जैस्मिन दोनों की मेहंदी लगाने की रसम शुरू हो जाती है तभी तेजो अपने भाई से कहती है जाओ कुछ खाने को लेकर आओ इतने में ही अंगद तेजो के लिए कुछ खाने को लाता है

और उसे अपने हाथों से खिलाता है वही जैस्मिन उन्हें देख रही होती है तभी अंगद फतेह से कहता है फतेह तुम भी कुछ जैस्मिन को खिला दो फतेह भी जैस्मिन को अपने हाथों से खिलाता है और उसके बाद जैसमीन मेहंदी वाली से कहती है कि उसके हाथों में एक बड़ा सा दिल बनाए और उसके अंदर जैसफा लिखें और जैस्मीन एक बार फिर से तेजो को ताना मारती है और उससे कहती है तेजो तू भी अपने हाथ में अंगद जी का नाम लिखवा रही है ना तो तेजो कुछ नहीं बोलती

तभी अंगत कहता है अरे जैसमीन जी आप इस बात की चिंता क्यों कर रही है मेरा नाम तो तेजो जी के दिल पर लिखा हुआ है तभी तेजो कहती है अंगद जी आप बिल्कुल सही कह रहे हैं मेहंदी से लिखा नाम तो मिट जाता है लेकिन दिल पर लिखा हुआ नाम कभी नहीं मिट पाता जिसे सुनकर फतेह तेजू की तरफ देखने लगता है तभी अंगद कहता है बिल्कुल सही कहा आपने क्या मैं आपके हाथों पर एक छोटा सा फूल बना सकता हूं तेजो हां कहती है और अंगद बड़े प्यार से तेजो के हाथों में छोटा सा फूल बना रहा होता है तभी जैस्मिन छठ से मेहंदी उठाती है

और फतेह के हाथ में देती है और कहती है फतेह तुम भी कुछ बनाओ ना लेकिन पते अर्जेंट कॉल का बहाना बनाकर वहां से निकल जाता है और साइड में जाकर तेजो और अंगद को देख रहा होता है जहां तेज और अंगद एक दूसरे से बात करके बहुत ज्यादा खुश हो रहे होते हैं और फतेह को बहुत बुरा लग रहा होता है तभी खुश फिर वहां पर आते हैं और खाते से पूछते हैं कि क्या देख रहा है तू जिसे सुनकर फतेह एकदम घबरा जाता है खुशवीर कहते हैं पछतावा हो रहा है तुझे तभी फतेह कहता है

पापा मैं कुछ समझा नहीं कि आप क्या कह रहे हो तभी खुशवीर कहते हैं समझ तो तू गया है कि हां यह मैंने क्या कर लिया हीरा समझकर कहीं पत्थर तो नहीं उठा लिया मैंने फतेह अभी भी वक्त है तेरे पास कल का टाइम है बदलना चाहता है तू अपना फैसला लेकिन फतेह कुछ नहीं बोलता और जैसमिन की तरफ देखता है और कहता है पापा मैं जैस्मिन से ही प्यार करता हूं इसीलिए तो इतना बड़ा कदम उठा रहा हूं और तेजो और अंगद भी एक दूसरे को पसंद करते हैं सगाई कर रहे हैं वह दोनों तभी खुशवीर कहता है

अगर इतना ही भरोसा तुम्हें अपने प्यार पर तो तेरी जुबान क्यों लड़खड़ा रही है बाप हूँ तेरा सब समझता हूं लेकिन अब मुझे लगता है कि तू भी ये समझ गया होगा कि जैस्मीन तेरा प्यार नहीं तेरी गलती है अभी भी तेरे पास वक्त है तू संभल जा अभी भी वक्त है तेरे पास सोच ले एक बार फिर से लेकिन फतेह कहता है सोच लिया पापा मैं जैस्मिन से ही प्यार करता हूं और इसीलिए तो उससे शादी कर रहा हूं और एक बार नहीं हजार बार सोचने के बाद भी मेरा जवाब यही होगा कि मैं जैस्मिन से ही शादी करना चाहता हूं

और जो कुछ भी हो रहा है उसे वैसे ही होने दीजिए मेरी आपसे रिक्वेस्ट है इतना कहकर फ़तेह वहां से चला जाता है तभी गुरप्रीत खुशवीर के पास आती है और कहती है देखिए जी यह आप क्या कर रहे हो क्यों किस्मत का लिखा हुआ बदलने की कोशिश कर रहे हो हम सब ने एक्सेप्ट कर लिया है मैंने भी मान लिया है तो आप क्यों जिद पर अड़े हुए हो तभी खुशवीर कहते हैं यह जिद नहीं है गुरप्रीत एक बाप के दिल की उम्मीद है मैं ऊपर जितना मर्जी खुश हो जाऊं

लेकिन अंदर से रो रहा हूं तभी गुरप्रीत कहती है देखिए फतेह आपका बेटा है लेकिन तेजो को भी तो अपने बेटी माना है ना तो उसकी खुशी के लिए ये सब होने दीजिए ना आप मान क्यों नहीं लेते कि उसकी जिंदगी में फतेही नहीं अंगद लिखा है फतेह को उसके हाल पर छोड़ दीजिए उसके आंखों पर तो अभी भी जैस्मिन के नाम की पट्टी बंधी हुई है वह नहीं मानेगा तभी खुशवीर कहते नहीं मानेगा तो ना सही लेकिन मैं ये उम्मीद नहीं छोड़ सकता

और फिर पूरा विर्क और संधू परिवार मिलकर एक गेम खेलता है जिसमें सभी को अपने अपने पार्टनर शूज करने का ऑप्शन होता है और आंखों पर पट्टी बंधी होती है जहां सबसे पहले खुशवीर खेलते हैं उसके बाद अंगद की बारी आती है तो अंगद जैस्मिन को पकड़ लेता है जैस्मिन अंगद को 50 पुश अप मारने की पनिशमेंट देती है और फिर बारी आती है तेजो की तेजो की आंखों पर पट्टी बंधी होती है तो तेजो जाकर फतेह का हाथ पकड़ लेती है

जिसे देखकर जैस्मिन एक बार फिर से आग बबूला हो जाती है फतेह को देखकर तेजो भी एकदम चुप हो जाती है वो कुछ नहीं बोलती अंगद बोलता है कि तेजाजी ने अपने गलत पार्टनर यूज किए तो पनिशमेंट तो इन्हें भी मिलेगी और उसके बाद अंगद तेजू और फतेह के लिए चिट निकालता है तो उनकी पनिशमेंट होती है डांस की फतेह औरतें जो दोनों एक साथ डांस कर रहे होते हैं जिसे देखकर जैस्मिन कहती है मुझे क्या पता नहीं चलेगा तेजो ने सबकुछ जानबूझकर किया है

वहीं खुशवीर गुरप्रीत से कहते हैं देखो गुरप्रीत दोनों साथ में कितनी अच्छी लग रही हैं मैं ऐसे ही उम्मीद नहीं लगाए हुए बैठा हूं और जब तक फतेह की शादी नहीं हो जाती मैं अपनी उम्मीद नहीं छोड़ सकता वही तेजो और फतेह को एक साथ डांस करते देख जैस्मिन को बहुत गुस्सा आता है और जैस्मिन जैसे ही दोनों को रोकने जाती है अंगद बीच में आकर जैसमिन को रोकने ता है और कहता है रहने दीजिए जैस्मिन जी वैसे भी कल से तो इसे आप के इशारों पर ही नाचना है

तो कम से कम आज तो नाच लेने दीजिए तभी जैस्मीन कहती है कहीं इन दोनों की नकली सगाई मेरे और फतेह की शादी ना रुकवा दे और कहीं इस अंगद का प्लान मुझे यहां लाने का नहीं तो नहीं था और कल भी कहीं मेरी जगह ये तेजो को ना बैठा दे मंडप में वही डांस करते करते थे जो गिरने वाली होती है लेकिन फतेह संभाल लेता है और आज के एपिसोड कर दी एंड वहीं पर हो जाता है

Leave a Reply