Pandya Store 25th November 2021 full episode written update
Pandya Store 25th November 2021 full episode written update

Pandya Store 25th November 2021 full episode written update

Pandya Store 25th November 2021 full episode Written Update, written Episode On Bollyjagat.in

Pandya Store watch full episode on Hotstar

Pandya Store 25th November 2021 full episode written update पंड्या स्टोर के आज के एपिसोड में आप सभी देखेंगे कि गौतम सोया हुआ रहता है और तभी उसे एक बहुत बुरा सपना आता है कि उसकी तारा को कोई यमराज धरा से छीन रहा है और यमराज के सामने धरा भीख मांग रही है और गौतम कुछ नहीं कर पा रहा है गौतम अपने सपने से बहुत ज्यादा डर जाता है

तभी उसे डॉक्टर की बात याद आती है कि डॉक्टर ने उसे धरा के साथ कल अपने क्लीनिक पर बुलाया है इधर रावी शिवा से मिलने जाती है तभी रफी की पुरानी दोस्त स्नेहा उसे रास्ते में मिल जाती है रावि अपनी फ्रेंड को देखकर बहुत खुश होती है

लेकिन रावि की फ्रेंड के चेहरे उतरे हुए होते हैं तभी रावि स्नेहा से कहती अरे स्नेहा तुझे क्या हुआ अभी तो हाल फिलहाल में तेरी शादी हुई ना फिर तेरे चेहरे की उतरे हुए हैं तभी स्नेहा कहती है रावि मुझसे भी वही गलती हो गई जो तुझसे हुई मैं भी शिवा की तरह अपने पति को नहीं पहचान पाए Pandya Store 25th November 2021 full episode written updateजिस तरह से तू शिवा को नहीं पहचान पाई तुझे लगा की शादी होगी धीरे-धीरे सब ठीक हो जाएगा लेकिन कुछ भी ठीक नहीं हुआ जब तक हमें अच्छे से नहीं पता चल जाता कि लड़का हमसे प्यार करता है तब तक हम अपने रिश्ते को आगे नहीं बढ़ाना चाहिए

हम लोगों की एक ही बहुत बड़ी गलतफहमी होती है जब लड़का अच्छे से बात कर लेता है तो हम उसे प्यार समझ बैठते हैं और मेरे साथ भी वही हुआ अब बात तलाक तक पहुंच गई रावि उसे समझाती है शादी के बंधन इस तरह से नहीं टूटते स्नेहा तू कोशिश कर सब ठीक हो जाएगा इतने में रावि को शिवा का कॉल आ जाता है शिवा रावि से कहता है तुम कहां हो भाभी ने बताया था कि दुकान आ रही हो तभी रावि कहती है मैं रास्ते में हूं आ रही हूं स्नेहा कहती है ठीक है मुझे लग रहा है तुझे कुछ काम है तू जा मैं भी जा रही हूं

इतना कहकर स्नेहा चली जाती है स्नेहा के जाने के बाद रावि कहती है पता नहीं क्यों जब भी मैं शिवा के लिए एक कदम आगे बढ़ाती हूं मुझे कोई ना कोई ऐसी बात सुना के कोई चला जाता है कि मैं फिर वही के वही खड़े रह जाती हूं अब जब तक सिवा अपने मुंह से मुझे अपने दिल की बात नहीं बताएगा मैं भी अपने कदम शिवा की तरफ नहीं बनाऊंगी इधर रिशिता अपने ऑफिस जाती है और अपने बॉस से मिलती है और उसे पूछती है कि उसकी बुआ वहां पर क्यों आई थी

लेकिन उसका बॉस कहता है कि वो विधायक है और रास्ते में मिल गई तो थोड़ा बातचीत कर लिया वैसे और कोई बात नहीं है इधर दूसरी और कृष भी अपने कॉलेज में होता है तभी उसकी नजर कीर्ति पर पड़ती है कीर्ति को देखकर कृष्ण अपना चेहरा छुपा कर वहां से जाने लगता है

लेकिन कीर्ति पीछे से कृष को पकड़ लेते हैं कृष कहता है सॉरी मैं उस दिन तोलिए में ही था तभी कीर्ति कहती है कोई बात नहीं तुम टॉवल में क्यूट लग रहे थे कृष हंसता है और खुश हो जाता है कीर्ति उसे कहती है कि हम लोग एक ट्रिप पर जा रहे तुम हमारे साथ चलो ₹5000 लगेंगे ₹5000 तो तुम खर्च कर ही सकते हो ना

इधर शिवा रावि के पास जाती है और उससे पूछती है तुम मुझसे कुछ कहना चाहते थे ना शिवा एकदम नर्वस हो जाता है रावि अंदर ही अंदर बहुत गुस्सा होती है और कहती है ये गधेड़ा एकदम गधेड़ा ही रहेगा कोई और रहता तो एक हीन्ट में पता नहीं क्या से क्या कह जाता पर मजाल है कि ये अपने दिल की बात अपने मुंह से निकाल दे फिर मैं क्यों कहूं शिवा आता है और कहता है नहीं मतलब वो घर से इतनी दूर दुकान में चल कर आई है तो ऐसे टाइम पास करने तो नहीं आई होगी ना कुछ बोल नहीं आई होगी बोल कुछ

रावि कहती हां मुझे एक पाव जीरा चाहिए जीरा खत्म हो गया है ना घर पर तुझे जीरा चाहिए शिवा कहता है क्या तुझे जीरा चाहिए ठीक है मैं अभी लेकर आता हूं वही कृष कहता है कीर्ति से कीर्ति मैं कहता हूं तुम लोग जाओ मेरा मुश्किल लग रहा है तभी कीर्ति कहती है इसका मतलब तुम मुझे अपना दोस्त नहीं मानता कृष कहता है अरे ऐसा नहीं है अभी ना पढ़ाई भी बहुत ज्यादा करनी है और घर से निकलना भी मुश्किल है धरा भाभी प्रेग्नेंट है तुझे तो पता ही है तो घर के काम भी मुझे देखने पड़ते हैं

तभी कृति का दूसरा दोस्त आता है और कीर्ति से बात करने लगता है जिसे देखकर क्रिष को बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगता और क्रिष वहां से चला जाता है इधर धरा रात की पार्टी के लिए अपने कपड़े चूज कर रही होती है तभी उधर से गौतम आता है और धरा को देखकर गौतम बहुत ज्यादा परेशान रहता है तभी धरा गौतम को अंदर बुलाती है और उसे पूछती है गौंबी बताओ ना गोम्बी में कौन सी साड़ी पहनू गोम्बी कहता है तुम कोई भी पहन ले धरा तुम पर सारे कपड़े अच्छे लगते हैं

तभी धरा कहती है देखा तारा तुम्हारे पापा को रोमांस तो सोच रहा है लेकिन पता नहीं चेहरे पर परेशानी क्यों है जिस तरह से तू अपनी मम्मा को ढेर सारा प्यार करके मूड ठीक कर देती है ना उसी तरह से तुम्हारे पापा को भी तुम्हारे प्यार की बहुत ज्यादा जरूरत है तो अपने पापा को ढेर सारा प्यार करके इनके भी चेहरे पर मुस्कान ला दो गोभी इमोशनल हो जाता है और धरा से कहता है तुम बिल्कुल सही कह रही हो धरा मुझे तारा के प्यार की बहुत जरूरत है भगवान करे मेरी उम्र इसे लग जाए

इधर रावि भी तैयार हो रही होती है तभी धरा रावि के लिए गजरा लाती है और कहती है तू तैयार हो गई रावि तभी रावि कहती है नहीं धरा दी मेरा मंगलसूत्र काकी मुझ से उस दिन उन्होंने ले लिया था ना मेरे हाथ से तभी धरा कहती है हां मां ने उसे ले लिया था क्योंकि उस दिन तुम दोनों का रिश्ता टूटने पर था लेकिन अब तो तुम दोनों का रिश्ता जुड़ गया है ना तो मंगलसूत्र तो तुम्हें पहनना ही पड़ेगा और मंगलसूत्र लेकर आएगी रिशिता पहले तो रिशिता मना करती है लेकिन फिर चालाकी से जाकर सुमन के कमरे से मंगलसूत्र लेकर आ जाती है

और रावि को पहनने को बोलती है जैसे ही रावि मंगलसूत्र पहनने वाली होती है धरा रावि को रोकती है और कहती है तू इसे मामूली माला समझ रही है रवि ये मंगलसूत्र है अपने सुहाग की निशानी और इसे पहनने का तरिका होता है तू बस 1 मिनट रुक मैं अभी आती हूं और फिर धरा शिवा को लाने बाहर चली जाती है इधर आ रावि धरा का इंतजार कर रही होती है और कहती है पता नहीं धरा दी कहां चली गई मैं काम करती हूं मंगलसूत्र पहन लेती हूं

जैसे ही रावि मंगलसूत्र पहनने वाली होती है धरा उधर से आती है और कहती है खबरदार जो तुमने पहना तो क्योंकि मंगलसूत्र पहनाने वाले को मैं अपने साथ लेकर आई हूं शिवा को देखकर रावि बहुत खुश हो जाती है शिवा कहता है भाभी अब मैं क्या पहनाऊ मुझे ना कुछ काम है मैं बाहर जाकर आता हूं जिसे सुनकर रिशिता से कहती है शिवा कहानी बनाना बंद करो मुझे काम करना है ये करना है वो करना है जब तलाक के लिए चिल्ला चिल्ला कर कह रहा था तो अब मंगलसूत्र भी पहना सीना ठोक के देव भी कहता है

पहनाना शिवा वैसे खड़ा-खड़ा क्या घूर रहा है तभी उधर से गौतम और कृष भी आते हैं और धरा से कहते धरा तुमने शिवा का हाथ खींच कर कमरे में लाई कुछ करने वाले हो क्या तू तभी कृष हंसता है और कहता है कोई कांड करना है क्या धरा कैसे चुप कर बुद्धू यहां पर शिवा और रवि की शादी होने वाली है तभी गौतम के तहत 1 मिनट एक मिनट लेकिन मंगलसूत्र तो मां के पास था तो तुम्हारे पास कैसे आया तो फिर इशिता कहती है मैंने चोरी की धरा भाभी के कहने पर और फिर सभी लोग मिलकर सिवा को रावि को मंगलसूत्र पहनाने को बोलते हैं

शिवा रवि को मंगलसूत्र पहने आता है रावि बहुत ज्यादा खुश हो जाती है और आज के एपिसोड का दि एंड वहीं पर हो जाता है वही कल के एपिसोड में हम सभी देखेंगे कि धरा बेहोश हो जाती है गौतम धरा को हॉस्पिटल लेकर जाता है तभी डॉक्टर बताते हैं कि धरा के पेट में जो बच्चा है वो 2 महीने से बिल्कुल बड़ा नहीं जिसे सुनकर सभी लोग चौक जाते हैं तो यह सब होगा कल के आने वाले एपिसोड में

Leave a Reply