Pandya Store 23th October 2021 written update
Pandya Store 23th October 2021 written update

Pandya Store 23th October 2021 written update | Pandya Store 23th October 2021 full episode today written update

Pandya Store 23th October 2021 written update || Pandya Store 23th October 2021 Today Full Episode Twists | Pandya Store 23th October 2021 Written Update | Pandya Store 22th October 2021 written update in hindi | Pandya Store Wriiten Update | Pandya Store Upcoming Twist | पंड्या स्टोर के आज के एपिसोड

Pandya Store watch full episode on Hotstar

Pandya Store 23th October 2021 written update पंड्या स्टोर के आज के एपिसोड में आप सभी देखेंगे कि धरा वहां से जा रही होती है तभी शिवा धरा से पूछता है कि भाभी आप कहां जा रही है तभी धरा कहती है कि मैं गौंबी को ढूंढने जा रही हूं पता नहीं उसे एक लड़की का फोन आया और वो गायब हो गया पता नहीं कौन थी वो लड़की मैं अभी गौतम को ढूंढ कर लाती हूं

और इतना कहकर धरा वहां से चली जाती है इधर एक बार फिर से प्रफुल्ला स्टेज पर जाने की कोशिश करती है लेकिन शिवा देख लेता है और प्रफुल्ला को हाथ पकड़ कर रोक लेता है वही रावि स्टेज पर जाती है और देव वहीं पर खड़ा रहता है

और कहती है कि मैं राम के साथ जंगल जाऊंगी सभी दर्शक गुस्सा हो जाते हैं और कहते हैं लगता है अब रावि का भी कृष की तरह दिमाग घूम गया है तभी देव रावि से पूछता है कि तुम क्या कर रही हो रावि तुम जल्दी से माता सीता को भेजो यानी कि धरा भाभी को भेजो तुम तो भरत की पत्नी मांडवी हो ना तुम अंदर जाओ और धरा भाभी को यानी कि माता सीता को बाहर भेजो तभी रावी कहती है कि सीता मैं ही हूं देव पूछता है धरा भाभी कहां है रावि कहती है कि वो अब सिर्फ गौंबी की पत्नी है

और वो अपने पति को खोजने गई हैं तभी वहां पर कृष आता है और वो भी कहता है कि मैं पिताजी के आदेश का पालन करूंगा मैं वन को जाऊंगा तभी रावि उसे कहती है अरे कृष तुम तो शत्रुघ्न होना तो फिर तुम यहां पर क्यों आए हो और ऐसे कपड़ों में तुम वन जाओगे तभी कृष कहता है ठीक है तो मैं एक बार फिर से शत्रुघ्न नहीं बन जाता हूं और एक बार फिर से क्रिष शत्रुघ्न की एक्टिंग करने लगता है। और अपने घुटनों पर बैठकर सीता से कहता है माते आप हमें इस तरह से छोड़ कर मत चाहिए माते तभी देव कृष को उठाता है और उससे कहता है

अब तू ये क्या कर रहा है कृष कहता है अभी तो भाभी ने कहा कि मैं राम नहीं बन सकता तो मैं शत्रुघ्न नहीं बन रहा हूं सुमंत शर्म के मारे अपना चेहरा छुपा लेती है और सभी लोग जोर-जोर से उठाकर लगाकर पंड्या परिवार पर हंस रहे होते हैं। इधर शिवा प्रफुल्ल अब कहां पकड़े रहता है लेकिन प्रफुल्ला स्टेज पर जाने की जिद करती है तभी शिवा प्रफुल्ला को एक खंभे से बांध देता है वही अनीता की नजर गौतम पर पड़ती है तभी अनीता भागते हुए गौतम के पीछे जाती है शिवा हार्दिक को रोकता है और उससे कहता है कि

आपके लिए एक सरप्राइज हार्दिक भाई आप रावण के पुतले के नीचे जा कर देखिए वहीं धरा गौतम को फोन करती है लेकिन गौतम को फोन नहीं लगता है। गौतम रोते हुए डॉक्टर की बातों को याद करता है और सोचता है कि अगर धरा को पता चल जाएगा तो उसका दिल टूट जाएगा मैं उसे किसी भी कीमत पर डॉक्टर की बातें नहीं बता सकता मैं जानता हूं कि महादेव हमारे साथ ऐसा नहीं करेंगे वह जरूर सब कुछ सही कर देंगे इधर नाटक का जो डायरेक्टर होता है वो शिवा और रवि से राम और सीता बनने को कहता है

लेकिन रावी और शिवा मना कर देते हैं तभी देव और रिशिता को डायरेक्टर राम और सीता बनने को कहते हैं लेकिन रिश्ता कहती है मैंने कल से उर्मिला के लाइंस का रिहर्सल किया है तो मैं सीता कैसे बन सकती हूं मुझसे नहीं होगा। वही बाहर सभी दर्शक गुस्से में चिल्ला रहे होते हैं तभी रावी कृष को कोई राम गीत बजाने को कहती है और रिशिता को लेकर वहां से चली जाती है। वहीं दूसरी ओर अनीता गौतम के पास आती है

और उससे पूछती है कि तुम कहां थे गौतम और तब से सभी लोग तुम्हें फोन कर रहे थे तो फोन का जवाब क्यों नहीं दे रहे थे और तुम परेशान क्यों हो तभी गौतम अनीता को बताता है कि

मैं धरा के डॉक्टर से मिलकर आया हूं और हमारा बच्चा नहीं बढ़ रहा है इतना कहकर गौतम रोने लगता है और कहता है कि अगर मेरे परिवार वाले को पता चल गया तो सभी लोग परेशान हो जाएंगे और धारा को अगर पता चल गया तो उसकी खुशियां तबाह हो जाएगी तभी अनिता गौतम को समझाती है और उससे कहती है कि सब कुछ ठीक हो जाएगा तुम भगवान पर विश्वास रखो आज मेरे लिए बहुत बड़ा दिन है। कि आज तुमने दिल से मुझे माफ कर दिया और इतनी बड़ी सच्चाई तुमने मुझे बताया

जैसे ही गौतम सुनता है तभी अपने मन में सोचता है कि हे भगवान ये मैंने क्या कर दिया मैंने अनीता को सच बता दिया मुझे अनीता को सच बताना चाहिए था या नहीं। और उसके बाद गौतम अनीता से माफी मांगता है और उससे कहता है आई एम सॉरी अनीता मुझे तुम्हें नहीं बताना चाहिए था अब मुझे धरा के लिए और भी ज्यादा स्ट्रांग होना पड़ेगा क्योंकि डॉक्टर ने सिर्फ और सिर्फ अच्छी बातें सोचने को बोला है लेकिन प्लीज तब तक तुम धरा से कुछ मत बताना मैं तुम्हारे सामने हाथ जोड़ता हूं

तभी अनीता कहती है तुम कैसी बातें कर रहे हो गौतम तुम मेरे पर विश्वास करके तो देखो मैं किसी को कुछ नहीं बताऊंगी उसके बाद गौतम अनीता को थैंक्स बोलता तभी अनिता गौतम से कहती है तुम मुझे थैंक्स क्यों बोल रहे हो थैंक्स तो मुझे बोलना चाहिए कि तुमने मुझ पर विश्वास किया और मुझे इतनी बड़ी बात बताई। चलो अब जल्दी से अपने आंसू पूछ लो और स्टेज पर चलो क्योंकि सभी लोग अपने राम की इंतजार में बैठे हुए हैं तभी धरा उसी तरह आती है और देखती है कि

गौतम एक लड़की के साथ बात कर रहा है अनीता और गौतम एक दूसरे से बात कर रहे होते हैं और अनीता अपनी पीठ सामने करके खड़ी होती है इसलिए धरा अनीता को देख नहीं पाती है और उसके बाद धरा कांता काकी की बहू की बातें याद करती है और कहती है कि कहीं गौंबी भी तो ऐसे नहीं हो गए उनका भी तो मुझ से मन नहीं भर गया लेकिन मैं ऐसा नहीं होने दूंगी मैं इतनी जल्दी हार नहीं मानूंगी ।

गौतम को मंच पर बुलाया जाता है। गौतम ये सुन कर चला जाता है। तबीयत स्टेज पर से आवाज आती है कि गौतम और धारा जहां कहीं भी हो जल्दी से स्टेज पर आ जाए गौतम और अनीता वहां से चले जाते हैं।

इधर स्टेज पर इशिता और रवि दोनों दर्शकों का ध्यान बंटाने के लिए घर मोरे परदेसिया गाने पर डांस करते हैं और वहीं कुछ लोग ताली बजाते हैं तो कुछ लोग ताना मारते हैं जनार्दन सोचता है कि जैसे ही गौतम आएगा मैं उसका किडनैप कर लूंगा वही डायरेक्टर शिवा और देर से राम की भूमिका निभाने के लिए उसके पैरों में गिरे होते हैं तभी देव गौतम को आते हुए देखता है और उनके पास जाता है तभी जनार्दन के गुंडे गौतम और अनीता को किडनैप करने की कोशिश करते हैं

लेकिन गौतम एक डंडे से उन लोगों की बहुत पिटाई करता है और गुंडे वहां से भाग जाते हैं तभी शिवा और दे वहां पर आता है और शिवा गौतम से पूछता है कि कौन थे वो लोग तभी गौतम बताता है कि जनार्दन के गुंडे थे। और उसके बाद शिवा और देव गौतम से पूछता है कि आप कहां चले गए थे आपको पता है कब से आपको स्टेज पर बुलाया जा रहा था कहां थे आप गौंबी। और आपका भी कहां है दूसरी तरफ हार्दिक प्रफुल्ला को रस्सी से छुड़ाता है और उसके बाद प्रफुल्ला शिवा को गालियां देने लगती है

तभी हार्दिक कहता है मामी शिवा को माफ कर दीजिए क्योंकि उसी ने मुझे यहां पर भेजा था लेकिन प्रफुल्ला मानने से इंकार कर देती है और हार्दिक से कहती है चलो वह सब छोड़ो अभी हम लोग चलते हैं और पांड्या लीला देखते हैं बहुत मजा आ रहा है। और उसके बाद प्रफुल्ल आ जाती है और एक बार फिर से सुमन को ताना मारती है इधर सभी लोग धारा को ढूंढ रहे होते हैं तभी धरा आ जाती है लेकिन गौतम से कुछ नहीं बोलती है

और आज के एपिसोड कादियान वहीं पर हो जाता है वही सोमवार के आने वाले एपिसोड में आप सभी देखेंगे कि गौतम धारा से कहता है थोड़ा सा मुस्कुरा ले लेकिन धरा कहती है तुम अभी भी मुझे नहीं बता रहे हो कि कौन सी लड़की से तुम बात कर रहे थे तभी गौतम कहता है तुम्हें मुझ पर विश्वास नहीं है धरा क्या मैं अग्नि परीक्षा दो तभी धरा कहती है तुम अग्नि परीक्षा देने की ताकत रखते हो तो ये सब होगा सोमवार के आने वाले एपिसोड में

Leave a Reply