You are currently viewing Nakaab Web Series Review In Hindi | Nakaab Web Series 15 September release | Nakaab Web Series Review
Nakaab Web Series Review In Hindi

Nakaab Web Series Review In Hindi | Nakaab Web Series 15 September release | Nakaab Web Series Review

Nakaab Web Series Review In Hindi | Naqaab Web Series Review In Hindi | Nakaab Web Series Review | Naqaab Web Series Review | Nakaab Web Series 15 September release

Naqaab Web Series Watch On Mx Player

Nakaab Web Series Review In Hindi एमएक्स प्लेयर पर आज ही एक थ्रीलर वेब सीरीज फ्रिज रिलीज हुई है जिसका नाम है नकाब सबसे पहले हम आपको बता दें कि इसकी स्पेलिंग थोड़ी चेंज की गई है Naqaab में qaab आप सर्च करेंगे तो नहीं मिलेगा आपको इसके लिए नकाब(Nakab) में nak सर्च करना होगा तब आप ये सीरीज देख सकते हैं और ये वेब सीरीज आपको एमएक्स प्लेयर फ्री में देखने को मिलने वाला है तो चलिए आज के इस खास अपडेट में हम आपको बताते हैं

कि इस सीरीज में क्या था अच्छा और क्या था बुरा इसलिए आप इस अपडेट को अंत तक पढ़ना दोस्तों जब आप इस सीरीज को स्टार्ट करोगे ना तो इस सीरीज के स्टार्टिंग में आपको पता चल जाएगा कि Nakaab Web Series Review In Hindi ये सीरीज हैवीली इंस्पायर्ड है सुशांत सिंह राजपूत के केस पर तो चलिए पहले इसकी स्टोरी का प्रीमाइज आपको बता देते हैं इसकी स्टोरी का जो प्रीमाइज है वो रखा गया है वो एक हाई प्रोफाइल मॉडल के आगे जो एक बहुत ही फेवरेट एक्ट्रेस ने विभा दत्ता यहां पर विभा दत्ता उनका नाम होता है

वो मर जाती है और यही इन्वेस्टिगेशन करना होता है कि क्या उन्हें किसी ने फोर्स किया है या अपनी मर्जी से मरी हैं या मर्डर है या सुसाइड बेसिकली यही फाइंड आउट करना होता है और इसी सिलसिले के अंदर एक इंस्पेक्टर होती है Nakaab Web Series Review In Hindi जो शहर के अंदर आते हैं ईशा गुप्ता वो इनवॉलव हो जाती हैं और जब वो इनवॉलव हो जाती है तो वो काफी डिप्ली स्टोरीज के अंदर घुसते चली जाती है और वहां पर बड़े-बड़े कनेक्शंस भी निकलते हैं प्रोड्यूसर और डायरेक्टर के पॉलिटिकल लोगों की अंडरवर्ल्ड के कनेक्शन निकलते हैं

Nakaab Web Series Review In Hindi

और अगर इस तरह से मैंने आपको बता दिया तो आपको सारी स्टोरी ही समझ में आ जाएगी यहां पर एक कैरेक्टर है जो आपको काफी ज्यादा पहचाना हुआ लगेगा और काफी पावरफुल कैरेक्टर उनको दिखाया गया है Nakaab Web Series Review In Hindi वो है मल्लिका शेरावत और जो ईशा गुप्ता केस का इन्वेस्टिगेशन कर रही है उनकी जो हेल्प करते हैं वो करते हैं मिस्टर रोडे यानी कि गौतम रोडे यहां पर उनका भी रोल ठीक-ठाक ही है अब बात करते हैं इंटेंसिटी की तो किस तरीके से आदिति अनवीलिंग करती हैं

किस तरीके से फाइंड आउट करती है उसके जीवन में पहले ऐसा क्या हुआ होता है जिसके कारण वो इतनी ज्यादा इंटरेस्टेड हो जाती हैं इस पार्टिकुलर केस के अंदर ऐसा क्या होता है जब वो क्या-क्या फाइंड आउट करती हैं Nakaab Web Series Review In Hindi धीरे-धीरे ऐसा क्या होता है कि वो अपने बारे में क्या डिस्कवर करती है जिस तरीके से ये सब दिखाया गया है ये बहुत ही बचकाना लगता है और ऐसा लगता है कि इस वेब सीरीज को देखने में कोई भी इंटरेस्टेड नहीं होगा

और अगर बात करें डायरेक्शन के बारे में तो ऐसा लगता है कि किसी ने बंदूक लगा कर रखी हो माथे पर और और डायरेक्टर इसके अलावा कुछ नहीं सोचा कुछ ऐसे कैसेज हुए थे बॉलीवुड के अंदर और जैसे सुशांत सिंह राजपूत का केस हुआ वो सस्पेंस ही रह गया उसमें डायरेक्टर ने सोचा कुछ इंस्पायर्ड इंस्पिरेशन लोग और Nakaab Web Series Review In Hindi वैसा कुछ बना दो तो सौमिक सेन ने फटाफट से लिखा और फटाफट से बोला कि ये लिस्ट तैयार करो और फटाफट से उन्होंने डायरेक्ट कर दिया और बिना टाइम वेस्ट किए उन्होंने मल्लिका शेरावत को चुना

Nakaab Web Series Review In Hindi

और कहानी सस्पेंस के तरीके से दिखाने की सोची और उन्होंने सोचा कि धमाका मच जाएगा लेकिन आपको बता दें कि ना तो ईशा गुप्ता नाही मल्लिका शेरावत इनमें से किसी ने भी एक्टिंग बढ़िया तरीके से नहीं की है Nakaab Web Series Review In Hindi ये ऐसा लग रहा है देख कर कि इन लोगों को पैसे पूरे नहीं दिए गए हैं इन लोगों को ₹10 की जगह ₹5 मिले हैं और वो जो एक इंटेंसिटी और एक ग्रेविटी आनी चाहिए एक इंस्पेक्टर की जो खुले दिमाग का इंस्पेक्टर होता है

जब एंड में आप दिखाने की कोशिश कर रही हो कि काफी कैस में काफी सारे मिस्ट्री को फाइंड करे जा रही है पर लेकिन उसकी बॉडी लैंग्वेज उसके सोचने का तरीका उससे मैच नहीं करता तो आपको काफी ज्यादा डिसएप्वाइंटमेंट होगी इसे देखने से मल्लिका शेरावत इज अ बिग अपॉइंटमेंट इस वेब सीरीज में उन्हें देखकर ऐसा लग रहा है कि वो पूरी तरह से अपनी एक्टिंग को भूल चुकी है इस वेब सीरीज में नहीं तो वह रोमांटिक सीन अच्छे से कर पाई हैं

ना तो वो सैनचूएस सीन अच्छे से कर पाए हैं और ना ही धमकाने की सीन अच्छे से कर पाई हैं और अब बात करें ईशा गुप्ता की तो उनकी भी कहानी बहुत ही अजीब है इसे जो अपने बारे में डिस्कवर करती है Nakaab Web Series Review In Hindi वो बड़ा ही भद्दा लगता है जिस तरीके से वो दिखाया गया है वो बहुत जीरो टाइप है उनकी डिस्कवरी लिब्रेटिंग नहीं है वो बहुत ही ज्यादा जीरो टाइप है बस हम आपको इतना कह दे कि इसकी जो स्टोरी थी वो बहुत ही दमदार थी

वो कहीं ना कहीं रियल इंसीडेंस जो हमने रिसेंटली अभी बॉलीवुड में होते हुए देखे हैं ये लोग उसी राह पर चलते हैं उसी सस्पेंस को बनाए रखते हैं उसी डायरेक्शन में जो मिस्ट्री है उसमें मिस्त्री सोल्भ नहीं करते Nakaab Web Series Review In Hindi और सस्पेंस को ऐसे ही छोड़ देते हैं उन्हें सॉल्व करने की कोशिश नहीं करते हैं अगर ये लोग मिस्ट्री को सॉल्व करते तो ये स्टोरी काफी दादा दमदार भी होती अगर इसके अंदर कोई काबिल एक्टर्स आ जाते तो शायद इसके अंदर बात बन जाती

गौतम रोड के अलावा बाकी सभी को एक्टिंग में जीरो देना भी पाप होगा इस वेब सीरीज को देखने के बाद आपको बहुत ही लो ग्रेड की फीलिंग आएगी ये वेब सीरीज बहुत ही सस्ते में बनाई गई है इसके अंदर कोई पैसे नहीं खर्च किए गए हैं Nakaab Web Series Review In Hindi इस वेब सीरीज के कुल 8 एपिसोड है और हर एपिसोड की लेंथ आधे घंटे के आसपास की है और अगर इस बेव सीरीज की एक लाइन में रिव्यु की जाए तो ये वेब सीरीज टोटली टाइमपास है मतलब ये कहानी कहां शुरू होती है और कहां खत्म होती है

इसका कुछ समझ ही नहीं आएगा इसकी कहानी का कोई अता-पता नहीं स्क्रीनप्ले इसका कहीं भी जा रहा है कहीं भी आ रहा है स्टार्टिंग एपिसोड देखकर ही क्लीयरली मालूम पड़ता है कि एंड में विलेन कौन निकलेगा Nakaab Web Series Review In Hindi और जब आपका अंदाजा एकदम राइट निकलता है ना तो भाई सच में आपको खुद के बाल और सब कुछ नोचने का मन करता है इसकी क्वालिटी बहुत ही पुअर है और म्यूजिक का भी वही हाल है म्यूजिक बैकग्राउंड इतना पुअर है कि आपको खुद लगेगा कि जो मिस्ट्री के टाइम में जैसा होना चाहिए

Nakaab Web Series Review In Hindi
Nakaab Web Series Review In Hindi

कि क्या चल रहा है वो बिल्कुल ही जीरो है इस सीरीज को देखने के बाद आप काफी ज्यादा डिसएप्वाइंट होने वाले हैं और आपकी टाइम भी वेस्ट हो जाएगी सारी बात की एक बात हम आपको बता दें Nakaab Web Series Review In Hindi कि ये मूवी पूरी तरह से फ्लॉप है ये बिल्कुल भी इंप्रेसिव नहीं है और एम एक्स प्लेयर की सबसे डिजास्टर वेब सीरीज होगी अगर आप इसको स्किप करना चाहते हैं तो कर सकते हैं

और अगर आपके पास कुछ भी नहीं है देखने के लिए और आपको देखनी है Nakaab Web Series Review In Hindi देखनी है तो फिर आप देख सकते हैं बाकी इसके अंदर कुछ नहीं है और जो लोग ये सोच रहे हैं कि इसके अंदर काफी ज्यादा हॉट वूमेन है ईशा गुप्ता और भी कई एक्सपेक्टेशन है तो वो आपकी धरी की धरी रहने वाली है

Recent Post

Leave a Reply