Imlie 25th October 2021 written update
Imlie 25th October 2021 written update

Imlie 25th October 2021 written update | Imlie 25th October 2021 full episode today written update

Imlie 25th October 2021 written update | Imlie 25th October 2021 written update in hindi | Imlie 25 October 2021 Today Full Episode Twists | Imlie 25th October 2021 Written Update | Imlie Written Update | Imlie Upcoming Twist | इमली आज का एपिसोड

imlie watch full episode on Hotstar

Imlie 25th October 2021 written update सीरियल इमली के आज के एपिसोड में आप सभी देखेंगे कि आदित्य जेल में परेशान होकर इधर से उधर घूम रहा होता है तभी अचानक से जेलर आते हैं और आदित्य की जेल का लाँक खोलते हैं और उसके बाद इमली और प्रणव को अंदर भेज देते हैं तभी आदित्य उन दोनों को जेल के अंदर देखकर शॉक हो जाता है और इमली से पूछता है इमली तुम लोग अंदर कैसे आ गए तभी इमली बोलती है कि हम तो सिर्फ एक चोर पकड़वाने को आए हैं तभी जेलर बोलते हैं अब 5 घंटे के लिए रहो तुम दोनों भी यहीं पर और उसके बाद इमली प्रणव की ओर देखती है

और बोलती है कि हम आप से बोले थे ना कि जेल की कोठरी से हम आपकी पहचान करवा कर रहेंगे तभी आदित्य बोलता है इमली से कि कौन चोर क्या हुआ तुम क्या बोल रही हो मुझे कुछ समझ में नहीं आ रहा है और तुम दोनों यहाँ लॉकअप में कैसे आ गए तभी इमली बोलती है कि बाबू साहेब वो क्या है ना कि आपके बिना हमारा मन कहां लगता है और यहां आने के खातिर हमें कोई बहाना तो चाहिए था ना और उसके बाद इमली प्रणब की ओर घूमती है और बोलती है कि

इसमें जीजू हमारी मदद किए हैं है ना जीजू तभी आदित्य चौक जाता है और बोलता है जीजू और उसके बाद प्रणब मन ही मन सोचता है कि इसने आदित्य को सच क्यों नहीं बताया वही इमली अपने मन में सोचती है कि अगर हम बाबू साहेब को सच-सच बता देंगे और उन्हें अगर सच पता चल गया कि उनके पेनड्राइव को इस चिलगोजे ने रखा हुआ है तो बाबू साहेब इन का चमड़ा उधेड़ कर रख देंगे और वैसे भी अगर इस प्रणव को मालूम चल गया कि पेनड्राइव के बारे में बाबू साहेब को पता चल चुका है

तो ये पेनड्राइव को तोड़ भी सकता है और इसमें तो नुकसान बाबू साहेब का ही है और उसके बाद आदित्य मन में सोचता है कि क्या मैं इमली से पूछूँ कि क्या सोचकर ये लॉकअप में आई है लेकिन फिर उसने फिर से हमें अगर ताना मार दिया तो वही प्रणब अपने मन में सोचता है कि हम इस लड़की को लाइटली में नहीं ले सकते हैं पता नहीं ये लड़की इस वक्त कौन सा प्लान बना रही होगि वही इमली मन ही मन सोचती है कि हमें पेनड्राइव के साथ-साथ ये भी सच को साबित करना होगा कि

बाबू साहेब के कमरे में ड्रग प्रणब नहीं छुपाया था हम कुछ ऐसा करेंगे जिससे कि रूपी दीदी फिर से दोबारा इन पर कभी भरोसा ना कर पाएंगे और उसके बाद आदित्य मन ही मन सोचता है कि समझ में नहीं आ रहा है कि ये सब इमली से कहे या ना कहे वही प्रणव भी अपने मन में सोचता है कि ये दोनों इतने चुप क्यों हैं कहीं इन दोनों की कोई सीक्रेट भाषा तो नहीं है तभी इमली हंसने लगती है और कहती है आप दोनों मन मन क्या सोच रहे हैं अगर बोलना है तो खुलकर बोलिए ना

हमारी तरह उसके बाद आदित्य प्रणब से बोलता है सॉरी प्रणव इस झल्ली की वजह से तुम्हें भी लॉकअप में आना पड़ा प्रणब बोलता है इट्स ओके और उसके बाद प्रणब बैठने के लिए आदित्य के पास जाता है तभी इमली पीछे से जाती है और प्रणव को धक्का दे देती है और खुद आदित्य के साथ जाकर बैठ जाती है तभी आदित्य बोलता है कि हां और कर भी क्या सकते हैं हमें तो इन सब की आदत सी पड़ गई है हमारा प्रोफेशन ही ऐसा है और फिर आदित्य इमली से बोलता है कि अब तुम्हें यहां पर हो तो वो पेन ड्राइव कहां है

तभी आदित्य की बात सुनकर इमली चुपचाप रहती है तभी आदित्य इमली से कहता है इमली हम तुमसे कुछ पूछ रहे हैं तुम यहां वहां क्या देख रही हो तभी इमली बोलती है कि बाबू साहेब पेनड्राइव तो वही है जहां पर उसे होना चाहिए तभी आदित्य कहता है अच्छी बात है इसका मतलब तुमने पेनड्राइव को ऑफिस पहुंचा दिया और उसे ऑफिस पहुंचा कर तुम यहां पर आई हो तभी इमली बोलती है कि नहीं तभी आदित्य चौक जाता है और कहता है नहीं तो फिर कहां है तभी इमली बोलती है कि

बाबू साहेब देखिए बहुत ही कड़े पहरे में है बस आप ये समझ लीजिए कि उस पेनड्राइव का पांव भी होता ना तो वो चलकर नहीं जा पाता तभी आदित्य बोलता है कि अरे तुम क्या बोलती रहती हो हमें कुछ समझ में नहीं आता है तुम से सीधा सवाल पूछा है तो तुम सीधा जवाब नहीं दे सकती हो क्या पेनड्राइव का पैर निकल जाता इधर से उधर हो जाता क्या बकवास करते रहती हो तुम यहां पर अंदर बंद पड़े पड़े हम कुछ कर भी नहीं सकते हैं उसके बाद प्रणब जेलर से बोलता है कि

सर हमें एक जरूरी फोन करनी थी प्लीज हमें बात करा दीजिए तभी इधर इमली इशारे से आदित्य को समझा रही होती है उसके पीठ पर कुछ लिखने की कोशिश करती है तभी आदित्य हिल जाता है और इमली से कहता है इमली तुम यह क्या कर रही हो सीधे बैठो ना उसके बाद इमली आदित्य जहां बैठा होता है उसे थोड़ी दूर हट के फिर उसके पास आकर बैठ जाती है और फिर इमली की पीठ पर कुछ लिखने लगती है और आदित्य और इमली एक दूसरे में खो जाते हैं

और फिर अचानक से आदित्य इमली से कहता है 1 सेकंड तुम तो हमसे घर पर बात तक नहीं करती तभी इमली कहती है बात तो हम आपसे अभी भी नहीं करते हैं तभी आदित्य कहता है कि तो फिर तुम ये क्या कर रही हो तुम्हें इस पुलिस स्टेशन में इस प्रणब के सामने रोमांस शूज रहा है इमली बोलती है छीः और आदित्य से दूर जाकर बैठ जाती है लेकिन फिर से इमली आदित्य के पास जाकर बैठती है और बोलती है बाबू साहेब हम आपके साथ रोमांस करने के खातिर यहां पर नहीं आए हैं

तभी आदित्य कहता है तो फिर क्यों आई हो तभी इमली बोलती है कि बाबू साहब हम आपको एक राज की बात बताने की कोशिश कर रहे तभी आदित्य जोर से कहता है कौन राज इमली बोलती है राज मतलब सीक्रेट आप थोड़ा धीरे बोलिए ना तभी आदित्य कहता है तो बताओ ना तभी इमली कहती है शार्ट में बताएंगे आप समझ जाइएगा पर बोलिएगा नहीं प्लीज आपसे रिक्वेस्ट है और उसके बाद इमली आदित्य के पीठ पर फिर से लिखना स्टार्ट कर देती है और आगे समझ जाता है कि पेनड्राइव जो है

वो प्रणव के पास है उसके बाद प्रणब की और आदित्य गुस्से से देखने लगता है और प्रणव को मारने के लिए उठता है लेकिन तभी इमली आदित्य कहा पकड़ लेती है और उसे रोक लेती है और उसे कहती है कि बाबू साहेब अभी कुछ मत कीजिए तो भी आदित्य कहता है कि मन तो कर रहा है अभी इसे यहीं पर छोड़ दें लेकिन अभी मैं कुछ नहीं करूंगा और उसके बाद आदित्य इमली के कान में धीरे से बोलता है कि पहले प्रणव ने ड्रग के मामले में हमको अंदर करा दिया है और साथ में रूपी दीदी भी है हम यहां पर बवाल नहीं कर सकते

और इस जैसे तुच्छ आदमी को हम बल से नहीं बल्कि तुम्हारे जैसी बुद्धि इस्तेमाल करके सजा देंगे और उसके बाद आदित्य भी इमली के पीठ पर लिखता है और इंग्लिश समझ जाती है और बोलती है इतने दिनों बाद हमारी पत्नी हमारे साथ बैठी है और फिर इमली आदित्य से कहती है आप इस वक्त यह सोच रहे हैं तभी आदित्य कहता है अरे हमने क्या किया तभी इमली कहती है कुछ नहीं और उसके बाद उठकर वहां से चली जाती है और देखते ही देखते 6 घंटे भी चाहते हैं और कॉन्स्टेबल आकर प्रणब और इमली को जेल के बाहर आने को कहते हैं

तभी आदित्य कॉन्स्टेबल से कहता है सर 2 मिनट बात करनी है और उसके बाद आदित्य इमली से कहता है कि प्रणब तो यहां से रिहा हो गया है अब पता नहीं वह पेनड्राइव का क्या करेगा अब सब कुछ इमली तुम्हारे हाथ में है पता नहीं हम यहां से कब रिहा होंगे तभी इमली कहते हैं आप बिल्कुल भी चिंता मत कीजिए हम आपके पेनड्राइव को सही सलामत आपके पास पहुंचा देंगे प्रणब जल्दी से बेल पेपर पर साइन करता है और बाहर आकर मंत्री साहब से बात करता है कि हम पेनड्राइव लेकर 10 से 15 मिनट में आपके पास पहुंच रहे हैं

लेकिन तभी वहां पर इमली आ जाती है और कहती है चलिए घर चलिए तभी प्रणव कहता है मैं तुम्हारे साथ कहीं नहीं जाऊंगा तभी इंस्पेक्टर साहब आते हैं और प्रणब से कहते हैं हमारे साथ तो चलोगे ना अभी तुम्हारा पूरा परिवार रख के मामले में फंसा हुआ है और हम तुम्हें ऐसी हालत में नहीं छोड़ सकते हैं वही घर में सभी लोग परेशान होते हैं और एक बार फिर से मालिनी इमली को दोष देती है लेकिन अपना मारने से कहते हैं इमली हर बार हमारे परिवार को मुसीबत से बचाती है इस बार भी आदित्य को मुसीबत से बचा लेगी तभी वहां पर इंस्पेक्टर साहब आ जाते हैं

और इंस्पेक्टर को देखकर सभी लोग जाग जाते तब इंस्पेक्टर साहब बताते हैं कि हमें घर की तलाशी लेनी है तभी इमली कहती है कि हम आपकी मदद करते हैं और उसके बाद सभी कुमारी कन्या आ जाती है और इमली उन लोगों के साथ मिलकर एक प्लान बनाती है और आज के एपिसोड का दिन वही पर हो जाता है वही कल के एपिसोड में आप सभी देखेंगे कि सभी लड़कियां मिलकर पेनड्राइव एक दूसरे के हाथ में दे देती है जिसे देखकर पुराना चौक जाता है और यह सब होगा कल के आने वाले एपिसोड में

Leave a Reply