Imlie 23th October 2021 written update
Imlie 23th October 2021 written update

Imlie 23th October 2021 written update | Imlie 23th October 2021 full episode today written update

Imlie 23th October 2021 written update | Imlie 23th October 2021 written update in hindi | Imlie 23 October 2021 Today Full Episode Twists | Imlie 23th October 2021 Written Update | Imlie Written Update | Imlie Upcoming Twist | इमली आज का एपिसोड

imlie watch full episode on Hotstar

Imlie 23th October 2021 written update सीरियल इमली के आज के एपिसोड में आप सभी देखेंगे कि आदित्य इमली से पूछता है कि मैं तुमसे पेन ड्राइव के बारे में पूछ रहा हूं तुम ऐसे चुप क्यों खड़ी हो सब ठीक तो है ना बात क्या है इमली अपने मन में सोचती है कि अगर हम अभी बाबू साहेब को पेनड्राइव के बारे में बताएंगे तो तमाशा हो जाएगा और बात बिगड़ जाएगी इसलिए अभी हम बाबू साहेब को कुछ नहीं बता सकते हैं आदित्य इमली से कहता है तुम कुछ बोल क्यों नहीं रही हो चुप क्यों हो इमली कहती है हम अभी पेनड्राइव लेकर आते हैं और इमली वहां से चली जाती है

तभी आदित्य वहां पर खड़ा रहता है मालिनी आदित्य के पास जाती है और उससे कहती है क्या हुआ आदित्य आप ठीक तो है ना कहीं आप भीड़ को देखकर परेशान तो नहीं है क्योंकि मुझे पता है आपको शुरू से ही भीड़ भाड़ पसंद नहीं है लेकिन इमली तो बस अपनी मन की करती है ना उसे तो किसी की सुनी नहीं होती मैंने उससे कहा था कि जितने लोगों की लिस्ट बनी है बस उसी को बुलाई लेकिन नहीं उसने तो सारे लोगों को इनवाइट कर के यहां बुला लिया है तभी आदित्य मालिनी से कहता है

नहीं मालिनी ऐसी कोई बात नहीं है घर के सभी लोग इतने खुश हैं और आज इमली की वजह से ही सभी मोहल्ले वाले भी हमारे घर पर आए हैं तो मुझे बुरा नहीं लग रहा है मुझे अच्छा लग रहा है तभी मालिनी आदित्य से कहती है पता है आदित्य कभी-कभी मुझे आपके लिए बहुत डर लगता है क्योंकि इमली अभी बहुत इमैच्योर है और आपने उसे इतनी बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है कहीं कोई गड़बड़ ना कर दें तभी आदित्य इमली से कहते हैं मैं जानता हूं मालिनी की इमली थोड़ी जल्दी है लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि

वो उसमें भी बचपना है वो बहुत समझदार है और अपना काम बहुत अच्छे तरीके से करती है। तभी मालिनी आदित्य से कहती है और अब ये नहीं देख पा रहे हैं आदित्य कि किस तरह से इमली प्रणव जी के खिलाफ रुपाली दीदी को भड़का रही है तभी आदित्य कहता है मैं जानता हूं मालिनी के प्रणव एक अच्छा इंसान नहीं है और इमली को भी समझ आ गया है इसीलिए इमली रुपाली दीदी को बता रही है क्योंकि रूपाली दीदी की चिंता है इमली को और कोई बात नहीं है

इमली कहती है कि रूपाली दीदी भले ही मुझसे नाराज है लेकिन हम उनसे बात करना नहीं छोड़ सकते क्योंकि हम उनसे प्यार करते हैं वही पुलिस वाले सारे त्रिपाठी परिवार से कहते हैं कि हमें यहां पर आकर बहुत ज्यादा खुशी मिली तभी हरीश कहते हैं इंस्पेक्टर साहब आप यहां से प्रसाद खाकर ही जाइएगा लेकिन इंस्पेक्टर साहब कहते हैं कि नहीं हमें काम है इसलिए आप एक काम कर सकते हैं आप हम सभी लोगों का प्रसाद पैक करके दे सकते हैं अपर्णा कहती है मैं अभी आपके लिए प्रसाद लेकर आती हूं

वही प्रणव सोचता है कि इतनी आसानी से इमली मुझे यहां से जाने नहीं देगी मुझे यहां से निकलने के लिए कुछ बड़ा सोचना होगा और अभी अगर हंगामा हुआ तो पुलिस भी इस मामले में पड़ जाएगी फिर तो और बड़ी मुसीबत आ जाएगी लेकिन मैं एक काम कर सकता हूं इमली का लाया हूं पुलिस में उसी के खिलाफ इस्तेमाल कर सकता हूं। और उसके बाद प्रणव किसी को फोन करता है और उनसे कहता है कि मैं एक बड़े ड्रग डीलर के बारे में जानता हूँ और इधर इंस्पेक्टर को भी फोन आता है

और उन्हें पता चलता है कि त्रिपाठी परिवार से ड्रग की डीलिंग होती है तभी आदित्य इंस्पेक्टर साहब के पास जाता है और उन्हें अपने घर आने के लिए धन्यवाद कहता है तभी पुलिस इंस्पेक्टर बताते हैं कि आपके घर में ड्रक्स की डील होती है और इसलिए मुझे आपके घर में तलाशी लेनी होगी जिसे सुनकर सभी लोग हैरान हो जाते हैं तभी अपर्णा कहती है आप कैसी बातें कर रहे हैं स्पेक्टर साहब यहां पूजा चल रही है और इस घर में कोई नशा नहीं करता है तो हमारे घर से ट्रक की डीलिंग कैसे हो सकती है

तभी इंस्पेक्टर कहते हैं कि देखे हमें खबर मिली है तो हमें जांच करनी होगी तभी आदित्य कहता है रहने दीजिए मां जब हमने कुछ किया ही नहीं है तो फिर हमें किस बात की फिक्र करने की जरूरत है इस्पेक्टर साहब चलिए मैं आपके साथ कॉर्पोरेट करता हूं मैं आपको अपने घर की तलाशी लेने में मदद करता हूं और उसके बाद आदित्य सबसे पहले अपने कमरे में लेकर जाता है। इधर बड़े ही चालाकी से प्रणव घर से बाहर आता है और मुड़कर देखता है तो इमली उसके सामने खड़ी होती है। और इमली प्रणब से कहती है कि मुझे नहीं पता कि उस वक्त आपने पेनड्राइव कहां छुपाया था

लेकिन मैं यह जानती थी कि पेनड्राइव आप ने ही चुराया है तभी प्रणव इमली से कहता है चुराया नहीं है पगली चुरा लिया तुमने मुझे कोई छोटा चोर समझा है क्या इमली प्रणव को कुछ बोलने ही वाली होती है कि देखती है पुलिस आदित्य को गिरफ्तार करके ले जा रही होती है और पुलिस बताती है कि आदित्य के कमरे में ही ड्रग मिला है जिसे सुनकर अपर्णा रोती है

और आदित्य को रोकने की कोशिश करती है लेकिन पुलिस आदित्य को अरेस्ट करके पुलिस स्टेशन लेकर चले जाते हैं । और प्रणब बहुत खुश होता है और इमली से कहता है क्या हुआ तभी इमली को समझ आ जाता है कि इन सब के पीछे प्रणव का ही हाथ है

इमली अपने मन में कहती है कि मुझे बाबू साहेब का पेनड्राइव बचाने के लिए कुछ ना कुछ तो करना ही होगा और एक बार फिर से मालिनी को मौका मिल जाता है और मालिनी इन सारी चीजों के लिए इमली को ब्लेम करने लगती है तभी अपर्णा कहती है इसमें इमली की कोई गलती नहीं है तभी हरीश कहते हैं कि जरूर इन सब के पीछे उस आदर्श कांत का हाथ है क्योंकि उस के बारे में आदित्य लिखने जो वाला था तभी मालिनी कहती हैं मैं भी तो वही बोल रही हूं कि जब इमली को पता था कि आदित्य इतना बड़ा काम कर रहे हैं तो फिर अनजान लोगों को बुलाने की क्या जरूरत थी।

तभी हरीश कहते हैं कि हम यहां पर खड़े खड़े अटकले क्या लगा रहे हैं हमें जाकर पुलिस थाने में पता करना होगा कि कौन सा केस लगा रहे हैं यह लोग आदित्य पर और उसके बाद रूपाली प्रणव से कहती है प्रणब तुम अपने पुराने दोस्तों से बात करो तुम्हारी जान पहचान थी ना तभी प्रणब कहता है ठीक है मैं अपने दोस्तों से मिल कर आता हूं लेकिन इमली उसे रोक लेती है और सबके सामने बात करने के लिए कहती है और प्रणब से कहती है अभी आपको हमारे परिवार के साथ रहना चाहिए इस वक्त आप हमारे परिवार को कैसे छोड़ कर जा सकते हैं |

इमली अपने मन में सोचती है जब तक मैं बाबू साहेब का पेनड्राइव लेना लो आपको यहां से जाने नहीं दूंगी। और उसके बाद सभी लोग पुलिस स्टेशन पहुंच जाते हैं इधर प्रणव को बार-बार आदर्श कांत का फोन आते रहता है तभी पुलिस कहते हैं कि अगर आप लोग साबित कर सकते हैं कि ड्रग आप लोगों के घर में नहीं था तब हम आदित्य को छोड़ देंगे नहीं तो फिर केस कोर्ट में जाएगा इमली सोचती है कि प्रणव को मैं कितना देर ऐसे रोकूंगी और उसके बाद इमली जानबूझकर प्रणब के साथ लड़ाई करने लगती है

और इंस्पेक्टर इमली और प्रणब दोनों को जेल में बंद कर देते हैं और इमली प्रणब से कहती है मैंने कहा था ना कि आप को जेल की दीवारें देखनी है दिखा दिया ना मैंने जिसे सुनकर प्रणब चौक जाता है और आज के एपिसोड का दी एंड वहीं पर हो जाता है वह सोमवार के एपिसोड में आपसे भी देखेंगे कि इमली आदित्य को इशारे में बताती है कि पेन ड्राइव प्रणब के पास है आदित्य गुस्से में प्रणव को देखता है गुस्से में आदित्य को देखकर प्रणब भी डर जाता है तो ये सब होगा सोमवार के आने वाले एपिसोड में

Leave a Reply