You are currently viewing Ghkkpm 6 October written update | Ghum Hai kisikey pyaar meiin 6 October written update | Ghum hai kisikey pyaar meiin 6th October 2021 full episode written update
Ghkkpm 6 October written update

Ghkkpm 6 October written update | Ghum Hai kisikey pyaar meiin 6 October written update | Ghum hai kisikey pyaar meiin 6th October 2021 full episode written update

Ghkkpm 6 October written update | Ghum Hai kisikey pyaar meiin 6 October written update | Ghum hai kisikey pyaar meiin 6th October 2021 full episode written update | Ghum Hai kisikey pyaar meiin Upcoming Twist

Ghum Hai Kisi key Pyaar Mein serial watch on  Hotstar

Ghkkpm 6 October written update गुम है किसी के प्यार में कि आज के एपिसोड में आप सभी देखेंगे कि देवी दाई और घर के सारे फैमिली मेंबर हॉस्पिटल पहुंचते हैं देवी ताई रोती है और कहती हैं कि ये सब मेरी वजह से हुआ है जब सई घर छोड़ कर जा रही थी तब मुझे किसी को बता देना चाहिए था अगर मैं बता देती तो शायद ये हादसा होता ही नहीं सई के साथ इधर विराट के हाथ से फोन गिर जाता है तभी कमिश्नर साहब पूछते हैं क्या हुआ विराट तुम इतना परेशान क्यों हो घर में कुछ गड़बड़ हुई है क्या विराट कहता है

सर सई जिंदगी और मौत के बीच में झूल रही है वो जैसे ही आगे बढ़ता है कि दरवाजे से टकरा जाता है और नीचे गिर जाता है कमिश्नर साहब उसे उठाते हैं और कहते हैं संभालो खुद को विराट तुम कैसे कर रहे हो चलो मैं तुम्हारे साथ हॉस्पिटल चलता हूं घबराओ नहीं यंग मैन इधर देवी दाई सम्राट से कहती है कि तू जानता है सम्राट इन सब के जिम्मेदार कौन है विराट और तेरी पत्नी पत्रलेखा जब मैं वीरू से बात कर रही थी ना

उसे समझाने की कोशिश कर रही थी कि समझाने की कोशिश कर रही थी कि सई को जाने से रोक ले तो ये बीच में आ गई थी और इसने मेरी बात पूरी ही नहीं होने दी ये बीच में आकर इतना भला-बुरा बोली कि मैं क्या बताऊं पाखी कहती है बस करिए देवी ताई और कितना बोलना बाकी रह गया है मैं बस आपको ये कह रही थी कि आपको बीच में बोलने का कोई हक नहीं है क्योंकि अब आप ही सुधार में नहीं रहती हैं

इसलिए आपको नहीं पता है कि विराट और सई के बीच में क्या प्रॉब्लम चल रही है अगर मैंने ऐसा कह दिया तो क्या गलत कहा आपको पता भी है कि उन दोनों के बीच में क्या चल रहा है तो फिर आप बीच में क्यों बोल रही थी तभी सम्राट पाखी से कहता है चुप करो पाखी बस बहुत हो गया तुम शायद ये भूल रही हो कि ये हॉस्पिटल है यहां जोर-जोर से चिल्लाना अलाउ नहीं है वरना सब को बाहर निकाल दिया जाएगा तभी डॉक्टर आते हैं

और कहते हैं कहां हैं इसके हस्बैंड उनके पेशेंट की हालत बहुत बिगड़ रही है आप लोगों को उनके हस्बैंड को बताना चाहिए कि उन्हें जल्द से जल्द यहां आना चाहिए सम्राट डॉक्टर की बात सुनकर घबरा जाता है और डॉक्टर से कहता है देखिए डॉक्टर साहब वो निकल चुके हैं और रास्ते में है मैं उनका ब्रदर इन लॉ हूं और ये उनकी मदर इन लॉ है क्या हमारे सिग्नेचर से काम नहीं चलेंगे डॉक्टर कहते हैं ये हॉस्पिटल के भी ना कुछ प्रोटोकॉल्स होते हैं

इस लिहाज से आप लोग कि सिग्नेचर वैलिड नहीं होंगे हमें सर्जरी करनी है आप उन्हें जल्दी बुलाइए तभी भागता भागता विराट कमिश्नर साहब के साथ हॉस्पिटल पहुंचता है सई के दोस्त विराट को देख कर कहते हैं आ गए विराट सर जरूर इन्होंने ही कुछ किया होगा वैसे भी सई कहते रहती है कि इसके घर वाले बहुत अच्छे हैं लेकिन विराट सर बिल्कुल अच्छे नहीं है सई की फ्रेंड कहती हैं हां बिल्कुल सही कहा तुमने उस दिन कैफे में भी मैंने देखा था

कैसे वो दूसरी लड़की का हाथ पकड़े हुए बैठे हुए थे ना अनिकेत कहता है अब हम इनको सई के आसपास भी नहीं भटकने देंगे दोस्तों चलो यहां से तीनो के तीनो दोस्त कॉरीडोर के बाहर खड़े हो जाते हैं और एक दूसरे का हाथ पकड़ लेते हैं तभी विराट आता है और देख कर चौक जाता है विराट कहता है ये सब क्या है हटो मेरे सामने से मुझे मेरी वाइफ से मिलना है इसलिए प्लीज आप लोग सामने से हट जाओ तभी अनिकेत कहता है

नहीं विराट सर इस बार हम आपको सई के आसपास भी आने नहीं भटकने देंगे और सई का दोस्त कहता है कि आज जो सही की हालत है ना उसके जिम्मेदार सिर्फ और सिर्फ आप हैं सई आज इस हालत में सिर्फ और सिर्फ आपकी वजह से उस दिन कैफे में आपको किसी लड़की के साथ देखकर वो पूरी तरह से टूट गई थी आज फिर से उसके साथ कोई हादसा हुआ है आपको कंसर्न पेपर पर साइन करना है ना कोई बात नहीं मैं डॉक्टर को यहां बुला कर ले आती हूं

आप यहीं पर साइन कर दीजिएगा लेकिन मैं आपको अंदर जाने नहीं दूंगी डॉक्टर आते हैं और कहते हैं विराट मैं बहुत के लिए क्लीयरली बात करना चाहता हूं आपकी वाइफ की बचने के चांसेस सिर फिपटी-फिपटी है ये कंसर्न पेपर पर सिग्नेचर मुझे सिर्फ इसलिए चाहिए जिससे अगर उनको ऑपरेशन के दौरान कुछ होता है उसका जिम्मेदार हॉस्पिटल बिल्कुल भी नहीं होगा और ये सोच समझकर आप साइन कर दीजिए विराट बिना सोचे समझे फॉर्म साइन कर देता है सर्जरी सई की शुरू हो जाती है

और सारे डॉक्टर से अपना काम करने लग जाते हैं कमिश्नर साहब सई के दोस्तों से कहते देखो मुझे नहीं पता कि तुम लोग को क्या प्रॉब्लम है लेकिन इस तरह से हॉस्पिटल में ये सीन क्रिएट करना बहुत गलत है मैं विराट को बहुत टाइम से जानता हूं वह एक बहुत ही अच्छा आदमी है ही इज ए वेरी गुड पर्सन वो अपनी बीवी के साथ कुछ भी गलत नहीं कर सकता है विराट तुम ध्यान रखना देखना सब कुछ ठीक हो जाएगा फिलहाल मैं पुलिस स्टेशन जा रहा हूं तभी देवी उठती है

और विराट को झकझोर कर रख देती है और कहती है क्यों क्यों नहीं रोका तूने मैंने कहा था ना कि सई जा रही है इसे रोक ले लेकिन नहीं तुमने मेरी एक बात नहीं सुनी और देखो सई के साथ इतना बड़ा हादसा हो गया तू सिर्फ पत्रलेखा की बात सुन रहा था पत्रलेखा इतना गंदा-गंदा बोल रही थी ना लेकिन तूने उसे चुप नहीं कराया अगर सई को कुछ हुआ ना वीरू तो तू देखना तू जिंदगी भर खुद को कोसता रह जाएगा पुलकित कहता है

देवी खुद को संभालो और फिर पुलकित सनी से कहता है सनी जाओ देवी को घर लेकर जाओ देवी की हालत बहुत बिगड़ रही है कोई अपडेट होगी तो मैं फौरन घर पर फोन करके बता दूंगा सनी जबरदस्ती देवी ताई को हॉस्पिटल से लेकर घर जाता है इधर विराट गणपति के आगे हाथ जोड़कर खड़ा हो जाता है और कहता है जब भी सई मुसीबत में होती है तो सिर्फ आपका नाम लेती है मैं आपसे वादा करता हूं एक बार मेरी सई को ठीक कर दीजिए मैं हमेशा के लिए उसकी जिंदगी से दूर चला जाऊंगा

तभी अश्वनी काकू आती है और कहती है बेटा ऐसे नहीं बोलते तो गणेश जी से प्रार्थना करके सई बिल्कुल ठीक हो जाए उससे दूर जाने की बात बिल्कुल भी मत कर क्योंकि जब जब तुम दोनों दूर हुए हो ना तब तब तक बहुत कुछ बुरा हुआ है और विराट परेशान होकर बैठा रहता है तभी पाखी विराट के पास आती है और पाखी विराट के पास बैठती है और उससे कहती है मुझे लग रहा है कि तुम बहुत ज्यादा परेशान हो लेकिन तुम देखना सब कुछ ठीक हो जाएगा

बहुत जल्द डॉक्टर बाहर निकल कर आएंगे और कहेंगे कि ऑपरेशन इज सक्सेसफुल और सई फिर पहले जैसी हो जाएगी विराट खुद को दोष देना और रोना बंद करो इसमें तुम्हारी कोई गलती नहीं है सई खुद से जाना चाहती थी वैसे भी चार-पांच दिन से उसका तुम्हारे लिए कितना गंदा बर्ताव था उसमें तुम क्या कर सकते हो अगर किसी का एक्सीडेंट हो जाता है ये तो तुम्हारे हाथ में नहीं है ना तो तुम खुद को दोष देने में क्यों लगे हो पाखी की बात सुनकर विराट कहता है

पाखी चाहे कुछ भी हो जाए पर मुझे सई को रोकना चाहिए था मैं मानता हूं कि मेरा इस में पूरी तरह दोस्त नहीं है लेकिन फिर भी कहीं ना कहीं मैं जिम्मेदार हूं मैं सई के बिना नहीं रह सकता हूं पाखी और ये भी बात तय है कि मैं सई को बचाने के लिए किसी भी हद तक जाऊंगा बाकी चुप हो जाती और कुछ नहीं बोलती है पर आज के एपिसोड का दी एंड हो जाता है

कल के एपिसोड में आज भी देखेंगे कि विराट पाखी का हाथ पकड़कर जोर जोर से रो रहा होता है और उससे कहता है कि अगर तुम सच में मेरे लिए कुछ करना चाहती हो और दिल से करना चाहती हो तो मैं चाहता हूं कि तुम गणपति के आगे सई के ठीक होने की प्रार्थना करो मैं सई के बिना नहीं रह सकता पाखी इसलिए वाकई में तुम मुझे कुछ भी मानती हो या वाकई में तुम मेरे लिए कुछ भी है तो मेरे लिए गणपति बप्पा से प्रार्थना करो कि गणपति बप्पा मेरे सई को मुझे लौटा दे वही सम्राट आता है

और विराट को पाखी का हाथ पकड़े देखकर कुछ और समझ लेता है तभी सम्राट आ जाता है और कहता है वाह क्या सीन है मतलब तुम लोग तो बाज आने का नाम है नहीं दे रहे हो उधर कैफे में पाखी रो रही थी तो तुमने अपना हाथ दे दिया इधर हॉस्पिटल में विराट रो रहा है तो तुमने अपना हाथ थमा दिया कम से कम ये तो सोचो कि अस्पताल है यहां तो शांत हो जाओ

लेकिन नहीं तुम लोगों के तमाशे तो बंद होने का नाम ही नहीं ले रहे हैं पाखी क्या बात है पुलकित आता है और कहता है सम्राट मेरे बात सई का अगर किसी को परवाह है तो वो तुम हो सई को ब्लड की बहुत जरूरत है जल्द से जल्द ब्लड अरेंज करवा नहीं तो सई की हालत और ज्यादा बिगड़ जाएगी ये सब होगा कल के आने वाले एपिसोड में

Leave a Reply