Ghkkpm 4th November written update
Ghkkpm 4th November written update

Ghkkpm 4th November written update | Ghum Hai kisikey pyaar meiin 4th November written update | Ghum Hai kisikey pyaar meiin 4th November written update

Ghkkpm 4th November written update | Ghum Hai kisikey pyaar meiin 4th November written update | Ghum hai kisikey pyaar meiin 4th November 2021 full episode written update | Ghum Hai kisikey pyaar meiin Upcoming Twist | Ghum Hai kisikey pyaar meiin 4th November written update in Hindi

Ghum Hai Kisi key Pyaar Mein serial watch on  Hotstar

Ghkkpm 4th November written update गुम है किसी के प्यार में कि आज के एपिसोड में आप सभी देखेंगे कि करिश्मा ब्रेकफास्ट ले के ऊपर जा रही होती है तभी निनाद दादा कहते हैं अरे करिश्मा एक बार फिर से ब्रेकफास्ट कमरे में लेकर जा रही है क्या आज भी ओमी नीचे नहीं आएगा तभी भवानी काकू निनाद दादा कहती हैं रहने दो निनाद अभी ओमकार का गुस्सा बहुत तेज है गुस्सा शांत हो जाएगा तो अपने आप नीचे आ जाएगा इधर भी विराट और सई कमरे से निकलकर डाइनिंग रूम में आते हैं तभी भवानी काकू कहती है चलो ये बहुत अच्छा हुआ कि तुम दोनों यहां सब के साथ आ गए सई कहती है

क्या करूं काकू कमरे में बैठे-बैठे बोर होने लगी थी मैंने सोचा कि क्यों न सबके साथ बैठे गप्पे भी हो जाएंगे और खाना भी खा लेंगे तभी सम्राट कहता है अरे वाह क्या बात है आज तो सई आ गई सई कहती है दादा मैंने ना कुछ सोचा है कुछ प्लान किया है तभी विराट कहता है अच्छा सई क्या सोचा है तुमने किस प्लान के बारे में बात कर रही हो तभी सई कहती है अब आपका बोलना बहुत जरूरी है क्या विराट सर अभी तो मैंने मुंह खोला भी नहीं है और आप पहले हर चीज में घुस जाते मुझे बोलने तो दीजिए

खैर मैंने ये सोचा है कि क्यों ना मैं स्कूटी से कॉलेज जाया करूं मुझे कॉलेज तो जाना ही है ना तो स्कूटी से जाऊंगी तो समय भी बच जाएगा और कन्वीनियंस भी हो जाएगा मैंने यही प्लान किया है कि जल्द से जल्द स्कूटी ले लू वैसे आपको क्या लगता है मुझे स्कूटी लेनी चाहिए ना तभी विराट कहता है नहीं सई तुम्हें अभी स्कूटी नहीं लेनी चाहिए अभी तुम पूरी तरह से ठीक भी नहीं हुई हो और वैसे भी सई आए दिन तुम्हारा एक्सीडेंट होते रहता है मैं नहीं चाहता कि तुम स्कूटी लो बेहतर होगा कि

तुम रिक्शे से कॉलेज जाया करो सई कहती है विराट सर आपका बोलना इतना जरूरी है कि बता नहीं सकती कभी कभी तो मुझे लगता है कि आप सच में यही चाहते कि मेरा एक्सीडेंट हो जाए भले ही हर बार अरे भाई स्कूटी से चली जाऊंगी तो आपको क्या दिक्कत हो रही है चुपचाप नाश्ता कीजिए सम्राट कहता है सई तुम ठीक तो हो तबीयत ठीक है तुम्हारी पाखी कहती है अब विराट कैसे नाश्ता करेगा सई के ताने से उसके पेट जो भर गए होंगे क्यों सई कहा ना विराट विराट कहता है

पाखी बेहतर होगा कि तुम सम्राट के खाने-पीने का ध्यान दो मुझ पर ध्यान देना बंद करो मेरी तो समझ में नहीं आता कि हर बात में तुम क्यों बोली लगती हो सई मैं सच में नहीं चाहता कि तुम स्कूटी से जाया करो मुझे ना बहुत डर लगता है मुझे नहीं पता कि तुम अपनी स्पीड को मेंटेन कर भी पाओगी या नहीं सई कहती है विराट कर मैं आपको हॉस्पिटल में पड़ी मिलूंगी तो आपको ज्यादा खुशी होगी मेरी तो समझ में नहीं आता कि मैं कुछ भी बोलती है तो विराट सर हर चीज में क्यों घुस जाते हैं

भवानी काकू कहती है बस बस बहुत हो गया कब से देख रही हूं कि विराट तुम्हें कितने प्यार से समझाने की कोशिश कर रहा है और तू है कि पलट कर जवाब दिये जा रही है क्या हो गया क्या है इधर अश्विनी काकू कहती है विराट तू चुपचाप सुन रहा है बेटा तू इतने प्यार से समझाने की कोशिश कर रहा है तू बोलता क्यों नहीं है विराट कहता है क्योंकि आज तक मेरी आई ने किसी को कुछ बोल मैंने बचपन से देखा है कि काकू मेरे बाबा ओंकार चाचू हर किसी ने सिर्फ और सिर्फ मेरी आई को नीचा दिखाया है

उनकी बेइज्जती की है लेकिन इतना सब होने के बावजूद मेरी आईने एक शब्द नहीं बोला अगर मेरी आई उनके खिलाफ नहीं जा सकती तो मैं कैसे बोलूं सई कहती है काकू मैंने जो विराट सर के बदतमीजी की है उसके लिए माफी चाहती हूं लेकिन ये सब एक प्लान का हिस्सा था ये करना जरूरी था विराट कहता है ये सब हम दोनों ने मिलकर इसलिए किया जिससे कि आप सभी को आइना दिखा सकूं कि आप लोग ने मेरी आई के साथ किस तरह का बर्ताव किया है

और उन्हें कितना बुरा लगता है और इन सब के जिम्मेदार मेरे बाबा है क्योंकि मेरे बाबा ने आज तक मेरी आई की कभी इज्जत नहीं कि सबके सामने सिर्फ और सिर्फ उन्हें जलील किया है ऐसा क्यों किया है बाबा ये तो मैं नहीं जानता लेकिन आपका जो तौर तरीका है ना ये बहुत गलत है बाबा कहते हैं बाह कोई नहीं मिला तो मेरा बेटा मुझे कटघरे में खड़ा कर रहा है अगर मैं अच्छे से बात नहीं करता हूं तो इसमें बुरा क्या है क्या गलत क्या किया मैंने विराट कहता है

क्या कहा आपने क्या गलत किया है मेरी तो समझ में नहीं आता कि इसमें सही क्या है आप अपनी पत्नी से बात नहीं करते सीधे मुंह और आप कहते हैं क्या गलत किया है मैंने हमेशा काकू की ही बात आप क्यों सुनते हैं काकू कहती है 1 मिनट विराट सुनो ये मैंने यहां पर किसी से नहीं बोला है कि कोई अपने पत्नी की बात ना सुनकर मेरी बात सुनो अब तुम्हारे बाबा मेरी बात क्यों सुनते हैं ये मुझे नहीं पता पूछो उनसे ये क्यों नहीं सुनते हैं अपनी पत्नी की बात और अश्विनी काकू सबकी बातें इतनी कड़वी लगती है

तो अश्विनी ने आज तक अपना मुंह क्यों नहीं खोला तुझे क्यों खींचा मुंह खोलने के लिए बता मेरी इसमें क्या गलती है तभी सई कहती है मुझे तो पूरा विश्वास है कि इस घर में किसी को भी ये याद ही होगा कि कि कल आई बाबा की शादी को 37 साल पूरे होने वाले हैं और आई एम श्योर कि किसी को इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता तभी नहीं ना दादा कहते हैं 1 मिनट से मैं समझ गया हूं कि तुम लोग क्या प्लान कर रहे हो देखो अगर तुम लोग मेरे और अश्विनी की एनिवर्सरी की प्लानिंग कर रहे हो तो

उसको छोड़ दो क्योंकि मैं सच कह रहा हूं मैं ऐसा होने नहीं दूंगा इन 37 सालों में मैंने तुम्हारी आई के लिए कभी कुछ महसूस नहीं किया और उस मनहूस दिन को मैं याद भी नहीं करना चाहता इसलिए मैं नहीं चाहता कि मेरी शादी के बाद इस घर में हो भी ये सुनकर विराट चौक जाता है और एपिसोड का दी एंड हो जाता है

Leave a Reply