You are currently viewing Ghkkpm 30 September written update | Ghum Hai kisikey pyaar meiin 30 September written update | Ghum hai kisikey pyaar meiin 30th September 2021 full episode written update
Ghkkpm 30 September written update

Ghkkpm 30 September written update | Ghum Hai kisikey pyaar meiin 30 September written update | Ghum hai kisikey pyaar meiin 30th September 2021 full episode written update

Ghkkpm 30 September written update | Ghum Hai kisikey pyaar meiin 30 September written update | Ghum hai kisikey pyaar meiin 30th September 2021 full episode written update | Ghum Hai kisikey pyaar meiin Upcoming Twist

Ghum Hai Kisi key Pyaar Mein serial watch on  Hotstar

Ghkkpm 30 September written update गुम है किसी के प्यार में कि आज के एपिसोड में आप सभी देखेंगे कि सोनाली काकू भवानी काकू और अश्विनी काकू पूजा की तैयारियों में लगे रहते हैं जहां सोनालि काकू कहती हैं मैंने सारा काम किया तभी भवानी काकू कहती हैं बस बस अच्छा पंडित जी को भी बता देना तभी सोनालि काकू कहती है हां बहिनी मैंने बात कर ली है पर मैं क्या बोलती हूं कि पूजा सुबह-सुबह है ना तो हम लोग रात को ही तैयारियां कर लेते हैं है ना तभी भवानी काकू कहती है मस्त मस्त अच्छा मेहमानों को फोन कर देना तभी अश्विनी काकु कुछ बोलने वाली होती है

कि सोनालि काकू बोलती है बहिनी मैंने कर दिया फोन किया मैसेज किया सब कुछ हो गया तभी भवानी काकू कहती है मस्त और भोग का क्या सोनालि काकू भोग का नाम सुनकर चुप हो जाती है Ghkkpm 30 September written update तभी अश्विनी काकु कहती है बोलो बोलो ना कभी सोनालिका को कहती हैं सब कुछ मैं ही करूं बहिनी आप कुछ नहीं करोगी तभी अश्विनी काकू हंसती है और कहती है देखा वो ने देखा हां बहिनि मैं सारे काम देख लूंगी 108 मोदक बनानी होगी मैं बनाऊंगी

वैसे विराट कह रहा था मैं बनाऊंगा मोदक मैं बनाऊंगा मोदक मोदक बनाने दीजिए भूख के 108 मोदक तो मैं ही बनाऊंगी तभी भवानी काकू कहती है कल सुबह तुम दोनों जल्दी उठना और अपनी बहुओं को भी बोलना जल्दी उठने को तभी सोनालि काकू एक बार फिर से पहले बोलती हैं कि मैंने कह दिया Ghkkpm 30 September written update वो ने मैंने करिश्मा को कह दिया जल्दी उठना है अश्विनी काकू कहती है हां बहिनि मैं 4:00 बजे सुबह उठ जाऊंगी सुबह के 4:00 का अलार्म बजता है सई की आंख खुल जाती है सई मन ही मन सोचती है कि

मुझे इतना बुरा क्यों लग रहा है आज तो मुझे ये घर छोड़कर जाना है है ना मुझे रोना क्यों आ रहा है दिल उदास क्यों है नहीं मुझे खुद को मजबूर करना होगा मुझे जाना होगा विराट सर को अपने बंधन से मुक्त करना होगा सई उठती है Ghkkpm 30 September written update धीरे से अपने बैग को उठाती है गैलरी में ले जाती है और फिर चुपचाप से वहां पर रख देती है सई वापस आती हैं कबर्ड से एक और ब्लू कलर का बड़ा बैग उठाती है लेकिन अचानक वो बैग सई के पैर पर गिर जाता है सई के पैर पर बहुत जोर से लगती है

लेकिन वो अपना मुंह दबा लेती है ताकि आवाज ना निकले तभी देवी आती है और सई से कहती है सई देख मैं उठ गई 4:00 बजे का अलार्म लगाया था अब बता कौन सा सीक्रेट मिशन करना है Ghkkpm 30 September written update और देवी सई एक एक बैग पकड़ के दरवाजा खोल कर घर के बाहर आ जाते हैं सई चुपचाप दोनों बैगों को गार्डन एरिया में छुपा देती है सई फिर इतना खुश होती है देवी को गले लगाती है और देवि से कहती है देवी ताई थैंक यू आज आपकी वजह से यह काम हो पाया

मैं बहुत खुश हूं देवी कहती है देख तूने पहले मेरी मदद की थी ना मेरी पुलकित से शादी कराने में आज तुझे भागने में मैं तेरी मदद कर रही हूं हो गए ना सेम टू सेम सई कहती है देवी ताई आप बहुत भोली हैं Ghkkpm 30 September written update बस एक बात का ध्यान रखिएगा किसी भी हालत में ये मत बताइएगा कि हमारा मिशन क्या था अब आप सो जाइए सई फिर अंदर आती है और घर का एक एक कोने को बहुत ध्यान से देखती है सई की आंखें भर जाती है ऐसा ही मन ही मन सोचती है

बप्पा ये मेरा आज आखिरी दिन है मैं इस घर को और इस घर के घरवालों को बहुत मिस करूंगा आप बस मुझे हिम्मत देना और कुछ नहीं इधर सुबह सभी लोग उठते हैं विराट का मुंह बहुत खतरा रहता है Ghkkpm 30 September written update तभी ना दादा कहते हैं क्या बात है बेटा कुछ तो बात है तेरा चेहरा आज इतना उतरा सा क्यों है कोई बात है जो तू छुपा रहा है आखिर तू सोच कर आए विराट कहता है कुछ नहीं बाबा बस अरेंजमेंट देख रहा था तभी इतने में शनि आ जाता है और कहता है

देख विराट तूने बुलाया और मैं टाइम से पहले ही आ गया खुश है ना तू विराट खुशी-खुशी सैनी को गले लगाता है विराट सनी से कुछ नहीं कहता है तभी सनी कहता है अरे वाह विराट क्या अरेंजमेंट है Ghkkpm 30 September written update वाकई में देखने लायक है करिश्मा इतनी सुंदर रंगोली बनाते हैं फूलों से सई कहती है वाह करिश्मा क्या खूबसूरत रंगोली बनाई है तुमने जरूर मोहित ने तुम्हें सिखाया होगा इतना क्रिएटिव माइंड तो इस घर में सिर्फ मोहित का ही है इतनी प्यारी सुंदर डिजाइन मोहित ही मना सकते हैं तभी करिश्मा कहती हां भाभी आपने बिल्कुल ठीक कहा अब आप इतना ज्यादा इनक्रीस करती हैं कि

दिन भर मोहित मुझे डिजाइन बनाना ही सिखाता है और कुछ नहीं करता तभी सोनाली चाची कहती है तू तो मेरी बेटे की बड़ाई सुन ही नहीं सकती है करिश्मा ये सब छोड़ और गार्डन एरिया से फूल लेकर आ फूल तो चढ़ाने पड़ेंगे ना सई डर जाती है Ghkkpm 30 September written update और मन ही मन सोचती है अगर करिश्मा गार्डन एरिया गई और उसने वहां पर बैग देख लिए तो मैं इस घर को छोड़कर कभी नहीं जा पाऊंगी सब को सब कुछ पता चल जाएगा इधर करिश्मा एक-एक करके फूल तोड़ती है तभी पीछे से भागकर सई वहां आ जाती है

और करिश्मा से कहती है करिश्मा तुम इस कोने में खड़ी क्यों हो तुम उस कोने में खड़ी हो जाओ ना वहां पर बहुत बड़े-बड़े फूल लगे हैं इतने बड़े-बड़े फूल अगर आप तोड़कर लेकर जाएंगी ना तो काकू बहुत ज्यादा खुश हो जाएंगे Ghkkpm 30 September written update करिश्मा भी खुश हो जाती है और कहती हां सई भाभी दारो सूट्टो करिश्मा वहां से चली जाती है इधर सम्राट कि आई कहती है वाह सम्राट बाकी तुम दोनों को देखकर ऐसा लग रहा है कि जैसे राम सीता हमारे सामने खड़े हैं कितनी खूबसूरत लग रहे हो तुम दोनों सम्राट बहुत खुश हो जाता है

यह बात सुनकर और फिर कहता है आज इस पावन अवसर पर मैं चाहता हूं कि आज की आरती निनाद मामा गायें निनाद मामा आज आप सुर में सुर लगाइए गा निनाद मामा मना कर देते हैं तभी अश्विनी काकू कहती है सई बेटा तुम बोलो अपनी बेटी की बात नहीं ना कभी नहीं टालेंगे सही पलटती है और कहती है Ghkkpm 30 September written update बाबा प्लीज आज की आरती आप ही करिएना निनाद दादा खुश हो जाते हैं और कहते हैं हां बेटा तुमने बोला है तो मैं ही गाऊंगा और निनाद मामा इतनी सुंदर आरती गाते हैं कि सभी लोग उस में खो जाते हैं

पहले सम्राट और पाखी गणेश जी की आरती करते हैं फिर वही आरती विराट और सई करते हैं लेकिन दोनों के चेहरे उतर ही वैसे रहते हैं सई आगे बढ़ती है विराट के माथे पर तिलक लगाती है Ghkkpm 30 September written update और फिर तभी अश्वनी काकु कहते हैं अरे ये दूर दूर क्यों खड़ा है चल सई की मांग भर सई ने तुझे तिलक लगाया है ना आज गणेश जी का उत्सव है मांग भर विराट घबरा जाता है समझ नहीं आता है कि वो क्या करें लेकिन फिर आगे बढ़कर विराट सई की मांग भरता है जब विराट सई की मांग भर रहा होता है

तभी पाखी को अचानक इतना बुरा लगता है कि उसकी आंखें भर आती है वो वही सब के सामने रोना शुरु कर देती है विराट अपने मन कहता है सई मुझे पता है तुम्हें ऐसा लगता होगा कि मैं तुम्हारे साथ बहुत बुरा व्यवहार कर रहा हूं Ghkkpm 30 September written update पर मैं तुम्हें बता ही नहीं सकता कि तुम मेरे लिए क्या मायने रखती हो इसी के साथ आज के एपिसोड का दी एंड हो जाता है इस हफ्ते के एपिसोड में आप सभी देखेंगे कि सई घर छोड़कर चली जाती है

गाड़ी में बैठ के पास ही में एक शूटिंग हो रही होती है सई एक बच्चे को बड़े से गड्ढे में गिरने से बचाती है लेकिन अनफॉर्चूनेटली उसी का पैर उसमें फंस जाता है और वही गड्ढे में गिर जाती है जिससे सरिया उसके सिर पर लग जाती है ये सब देखेंगे इस हफ्ते के एपिसोड में Ghkkpm 30 September written update

Leave a Reply