You are currently viewing Anupama 29 August 2021 Written Upadate | Anupama 29th August 2021 Today full episode Written Upadate
Anupama 29 August 2021 Written Upadate

Anupama 29 August 2021 Written Upadate | Anupama 29th August 2021 Today full episode Written Upadate

Anupama 29 August 2021 Written Upadate | Anupama 29th August 2021 Today full episode Written Upadate | Anupama 29 August 2021 Today Full Episode Twist | Anupama 29th August 2021 Written Update | Anupama 29th August 2021 Written Update In Hindi

Watch Now On Hotstar Anupama

Anupama 29 August 2021 Written Upadate सीरियल अनुपमा के आज के एपिसोड में आप सभी देखेंगे की वनराज गुस्से में कहता है कि अनुपमा से पहले इस घर पर पहले मेरी बा का हक था और उसने मेरी बा का हक गिरवी रख दिया तभी पीछे से हंसराज आते हैं और बनराज को रोकते हैं और उसके पास आते हैं Anupama 29 August 2021 Written Upadate और बनराज से कहते हैं मैं जानता हूं कि तू कहां जा रहा है बनराज कहता है तो रोक क्यों रहे बापू जी मुझे बा के पास जाने दीजिए उनसे बात करने दीजिए तभी हंसराज कहते है तू फिकर मत कर मैं लीला को संभाल लूंगा

बनराज कहता है बापूजी कम से कम अब तो अपनी बेटी का नहीं बा का साथ दीजिए अपनी पत्नी का साथ दीजिए हंसराज कहते हैं मैंने अपने तो हमेशा अपनी पत्नी का साथ दिया बेटा पत्नी का हाथ और साथ छोड़ना तूने कहीं और से सीखा होगा मुझसे नहीं और ताना नहीं दे रहा हूं पर सच तो सच है लीला ने मेरी कमियों और गलतियों के साथ मुझे एक्सेप्ट किया है Anupama 29 August 2021 Written Upadate तो मैंने भी लीला की कमी या किसी गलती की वजह से अपने प्यार में कभी कमी आने नहीं दिया

मैं अपनी पत्नी से प्यार करता हूं बहुत प्यार करता हूं और इसी प्यार की वजह से मैं वो नहीं करता जो वो चाहती है पर वो करता हूं जो उसके लिए सही है बनराज कहता है बापू जी आपको लगता है कि हमे इस बार भी अनूपमा का साथ देना चाहिए हंसराज कहते हैं हां और उसके बाद बापूजी अपने घर को देखते हैं और कहते हैं ये घर मेरा दिल है Anupama 29 August 2021 Written Upadate बेटा और अपने दिल का एक हिस्सा गिरवी रखना पड़ा उसका सबसे ज्यादा दर्द मुझे है

जिंदगी में कई बार मुश्किल फैसले लेने पड़ते हैं नीम का पत्ता खाना पड़ता है अनूपमा को सबने भला बुरा कहा गुस्सा किया पर कभी ये सोचा है कि अगर वो पैसा नहीं लाती तो क्या होता कारखाना सील हो जाता कैफे और डांस एकेडमी बंद हो जाती ये तूने कभी सोचा है इस वक्त तू भी गुस्से भी हैं और लीला भी बात करने में ना तो तू उसे शांत कर पाएगा Anupama 29 August 2021 Written Upadate और ना ही वो तुझे उल्टा दोनों एक दूसरे का दर्द बढा दोगे इसलिए कह रहा हूं तू फिकर मत कर मैं लीला को संभाल लूंगा ये बोलकर बापूजी वहां से चले जाते हैं

बनराज कहता है लगता है सारे ग्रहण मेरे ही कुंडली में आकर बैठ गए हैं एक मुसीबत खत्म नहीं होती और दूसरी शुरू हो जाती है और उसके बाद हंसराज लीला के पास जाते हैं और उन्हें समझाते हैं लीला कहती है Anupama 29 August 2021 Written Upadate क्या समझू अनुपमा से पहले इस घर की बहू मैं हूं अनुपमा से पहले ये घर मेरा है और उसने बिना मुझसे पूछे वो घर राखी को दे दिया अरे मैं जिसे नागिन नागिन कहती थी वो नागिन आज मेरे मुंह पर तमाचा मार कर चली गई

उसने मेरे घर को अपना घर कहा मेरे झूले को अपना झूला कहा मैं लोगों के कान पर सितार बजाती हूं और उसने मेरी आत्मा के गाल पर शिकार बजा दिया मेरा सिर हमेशा के लिए उस नागिन के सामने झुक गया Anupama 29 August 2021 Written Upadate अरे इस घर में सब लोग अपने फैसले लेते हैं कोई मुझे नहीं बताता अनुपमा ने फैसला लिया मुझे नहीं बताया आपने उसका साथ दिया मुझे नहीं बताया मैं इस घर में कुछ हूं कि नहीं आप दोनों बाप बेटी ने उस नागिन को मेरे सर पर लाकर बैठा दिया ठाकुर जी की सौगंध मैं आप दोनों पर इतनी नाराज हूं

जितनी आज तक नहीं हुई थी आप मुझे ये बताइए कि मेरी जगह उसकी मां होती और उसका मायके का घर अगर गिरवी रखना होता तो क्या अपनी मां से वो बात नहीं करती उससे पूछती नहीं मैंने अनुपमा को अपनी बेटी माना पर उसने मुझे पराया कर दिया और आपने भी हंसराज कहते हैं लीला जिंदगी में कई बार मुश्किल फैसले लेने पड़ते हैं Anupama 29 August 2021 Written Upadate लीला कहती है तो ठीक है आप बाप बेटी ने मिलकर ये फैसला किया है तो आप दोनों मिलकर ही हमें इस मुसीबत से बाहर निकालेंगे अगर अनुपमा की वजह से ये घर नागिन के पास चला गया तो आप मेरा मरा हुआ मुंह देखेंगे

वही अनुपमा सोच रही होती है और समर से कहती है कि मुझे किसी भी हालत में सबसे पहले राखी बहन की पैसे लौटाने है इसके लिए चाहे मुझे कितना ही मेहनत क्यों ना करना पड़े डांस के और भी बहस हम लोग शुरू कर सकते हैं और उन लोगों के घर में जाकर अगर प्राइवेट क्लास लेनी पड़े तो वो भी मैं करूंगी और शादियों का सीजन आ रहा है Anupama 29 August 2021 Written Upadate समर तो वो संगीत वगैरा के लिए डांस सेट करके दे सकते हैं इधर उधर से कोशिश करेंगे हाथ पैर मारेंगे यहां वहां से पैसे कमाएंगे तब जाकर कुछ होगा सब जाती है

हम राखी बनती पैसे लौटा पाएंगे नहीं तो पता नहीं कैसे होगा समर अनूपमा को समझाता है कि मम्मी आप पहले ही जरूरत से ज्यादा काम कर रहे हैं मम्मी एक घड़ी भी वक्त के बाद रुक जाती है फिर उसके बाद घड़ी में भी चाबी देकर चालू करनी पड़ती है आप तो फिर भी इंसान हैं अगर आप इतना काम करेंगे ना तो बीमार पड़ जाएंगे तभी अनूपमा कहती Anupama 29 August 2021 Written Upadate और अगर नहीं करूंगी ना तो हमारा घर हमारा नहीं रहेगा करना है मतलब करना है तभी समर कर कर ठीक है मम्मी आप जैसा कहेंगे हम वैसा करेंगे

तभी अनुपमा कहती अच्छी बात पता है क्या है जैसे तैसे ये कारखाना बच गया अब इस पर कोई खतरा नहीं है और उसके बाद अनुपमा बनराज के पास जाती है बनराज गुस्से में अनूपमा को देखता है तभी इतने में वहां पर एक आदमी आता है और एक चिट्ठी देकर चला जाता है Anupama 29 August 2021 Written Upadate बनराज वो पेपर निकाल कर देखता है तभी वो एक एग्रीमेंट रहता है अनूपमा पूछती है क्या है ये लेटर बनराज देख कर चौक जाता है

और उसके बाद बनराज अनूपमा से कहता है कि एक कंपनी है जो यहां पर एक फाइव स्टार होटल और स्कूल बनाना चाहती है इसलिए उन्होंने आसपास की जमीन खरीद ली है और अब वो हमारा कारखाना खरीदना चाहते हैं क्योंकि वो यहां की जमीन को पूरा खाली करेंगे तभी यहां पर वो फाइव स्टार होटल और स्कूल बना पाएंगे Anupama 29 August 2021 Written Upadate अनुपमा कहती अगर हम बेचने से मना कर दे तो तभी वनराज कहता है इस कारखाने की कीमत जितनी उन्होंने अदा किया ना

कोई बेवकूफ ही होगा जो मना करेगा अनूपमा कहती है कितनी तभी बनराज बताता है 5 करोड़ रुपए ये सुनकर अनूपमा चौक जाती है और कहती है ठीक से देखिए 50 लाख होगा लेकिन बनराज कहता है नहीं 5 करोड़ है अनुपमा कहती है पर ऐसे कैसे हो सकता है कोई आया नहीं किसी ने ये जगह भी नहीं देखी हमसे बात भी नहीं की Anupama 29 August 2021 Written Upadate और ऐसे ही 5 करोड़ देने को तैयार है धनराज कहता है पता नहीं लेकिन इसमें लिखा है

कि अगर हम लोग रेडी हो जाते हैं कारखाना बेचने के लिए तो हमारी डायरेक्ट ओनर से मीटिंग होगी और वही के वही हमें ₹5 करोड़ का चेक दे देगा अनुपमा कहती है कौन है ये ऑनर कहां से आया है कैसा आदमी है कहीं ये भी तो फ्रॉड नहीं है और उसे इसी जगह पर होटल और स्कूल क्यों बनाना है तभी बनराज कहता है Anupama 29 August 2021 Written Upadate पता नहीं अनु इसमें कोई अनुज कपाड़िया लिखा हुआ है अनुज कपाड़िया का नाम सुनकर अनूपमा भी सोच में पड़ जाती है

और उसके बाद बनराज और अनुपमा सब को ये बात घर में जाकर बताते हैं बा 5 करोड़ का नाम सुनकर चौक जाती है और कहती है कहीं ये कोई ठग बग तो नहीं है ना वनराज कहता नहीं मां मैंने अनुज कपाड़िया के बारे में पता किया है वो बहुत बड़ा बिजनेसमैन है और उसकी मार्केट में रेपुटेशन बहुत अच्छी है काव्या कहती है Anupama 29 August 2021 Written Upadate और अगर उसने आसपास की सारी प्रॉपर्टीज खरीद ली है तो सोचो हमारा कारखाना खरीदने के लिए कितना डेसपरेट होगा इसका मतलब ये है कि

ये डिल हम लोग अपनी शर्तों पर कर सकते हैं तभी बा कहती है अब 5 करोड़ तो दे रहे हैं अब उसकी जान लेगी क्या बनराज कहता है बा बहुत अच्छा ऑफर है और इस वक्त हमारे लिए यह ऑफर life-changing है आज से पहले हमें पैसे इतनी जरूरत कभी नहीं पड़ी थी बापूजी राखी दवे का 20 लाख का कर्ज है Anupama 29 August 2021 Written Upadate विद इंटरेस्ट जो हमें चुकाते चुकाते उम्र गुजर जाएगी लेकिन लोन खत्म नहीं होगी ऊपर से बैंक का लोन अलग बापू जी अगर ये डील हो गई ना

तो हम लोग कहीं भी अपना नया बिजनेस सेटअप कर सकते हैं समर कहता है बात प्रैक्टिकली एकदम सही है लेकिन कारखाने के साथ कूल ड्यूड का इमोशन जुड़े हुए हैं तभी बनराज समर से कहता है समर अपनी मां के जैसा इमोशनल फूल मत बनो लोन पैसों से चुकाया जाता है इमोशन से नहीं तोषु भी कहता है Anupama 29 August 2021 Written Upadate समर पापा बिल्कुल ठीक कह रहे हैं हमें इस समय प्रैक्टिकली सोचना पड़ेगा कहने को हमें ₹4000000 चुकाने हैं लेकिन लोन चुकाने जाएंगे तो ये लगभग 70 से 80 लाख हो जाएंगे और

अगर हम उनका ये ऑफर रिजेक्ट करेंगे तो वो किसी ना किसी तरह से हम पर कोई प्रेसर डालेंगे और वो लोगों को अपनी बात मनवाने के सौ तरीके आते हैं बनराज कहता है बा मुझ में और अनूपमा में फर्क है Anupama 29 August 2021 Written Upadate अनूपमा को ठग लिया गया था मुझे कोई ठग नहीं सकता और अगर मुझे इस डिल में भी एक परसेंट की भी प्रॉब्लम नजर आएगी ना और अगर शक हुआ तो मैं इस डिल को तभी के तभी कैंसिल कर दूंगा

पर ये मौका अगर हमारे हाथ से निकल गया तो हम लोग राखी दवे के चंगुल से कभी नहीं निकल पाएंगे बापूजी चुपचाप बैठे रहते हैं वो कुछ नहीं बोलते हैं तभी लीला कहती है अब अनुपमा ने जो उस नागिन को सर पर बैठा कर रखा है उसे तो उतारनी पड़ेगी ना वैसे कारखाने की जगह भी शुभ है तभी काव्या कहती है वो जगह शुभ है Anupama 29 August 2021 Written Upadate तभी तो हमें 5 करोड़ मिल रहे हैं 5 करोड़ से ज्यादा शुभ और क्या हो सकता है लीला कहती मुझे तो ये सब ठीक लग रहा है बाकी अपने बापू जी से पूछ

लेकिन बापू जी एकदम चुप चाप बैठे रहते हैं तभी वनराज कहता है बापू जी कुछ तो बोलिए तभी हंसराज कहते हैं समर जा अनुपमा को बुला कर लेकर आओ तभी बनराज कहता है कोई जरूरत नहीं अनुपमा को बुलाने की अनुपमा को इस फैसले में बोलने का कोई हक नहीं है बापूजी इस मुसीबत को वही लेकर आई थी Anupama 29 August 2021 Written Upadate और हम लोग इस मुसीबत को शॉट आउट कर रहे हैं हंसराज कहते हैं पैसा वाकई में सब कुछ बदल देता है बनराज कहता है पैसा नहीं बदलता है बापूजी मुसीबत बदल देती है

आई एम सॉरी बाबू जी लेकिन इस बार ना ही मैं अनुपमा की बात मानूंगा और ना ही आपकी तभी बापूजी कहते हैं बात माननी ही नहीं है तो फिर पूछ क्यों रहा है जा कर ले कारखाने की सौदा बनराज कहता है Anupama 29 August 2021 Written Upadate करूंगा लेकिन आप के आशीर्वाद के साथ बाबू जी कहते हैं और अगर मैं आशीर्वाद ना दूं तो तभी बनराज कहता है आशीर्वाद आपको देना पड़ेगा बाबूजी बापू जी कहते है आशीर्वाद मांगा जाता है बेटा छिना नहीं जाता

ये सच है कि ये कारखाना मुझे मेरे पिताजी ने दिया था ये भी सच है कि इस कारखाने से मेरी यादें जुड़ी हुई है पर ये भी सच है कि इंसान में यादों में नहीं जीता आज मैं जीता है और आज का मुसीबत ये है कि हमें ये कारखाना बेच देना चाहिए बेटा हम पुराने लोग हैं इस उम्र में भी पिता की यादों के रिश्ते जब टूटते हैं तो बड़ा दर्द होता है तेरी बात सही है Anupama 29 August 2021 Written Upadate बिल्कुल कारखाना बेचने से हमारी मुसीबतें अगर खत्म हो जाती है और अनुपमा का जो टेंशन है वो कम हो जाता है

तो बेच दे बनराज एकदम खुश हो जाता है और कहता है बाबू जी आज ही मै लॉयर से मिलकर पेपर चेक कर लूंगा और अगर सब कुछ ठीक रहा तो आज ही साइन कर दूंगा और कल हम लोग जाकर अनुज कपाड़िया से मिल लेंगे ये बोलकर बनराज वहां से चला जाता है वही अनुपमा अकेले में बैठी रहती है और सारी बातें सोच रही होती है Anupama 29 August 2021 Written Upadate और उसके बाद अनूपमा कहती है वक्त है बदलता है तो सब कुछ बदल के रख देता है ये भी बदलेगा और वही काव्या और बनराज बहुत खुश हो रहे होते हैं

और अपने फ्यूचर की प्लानिंग कर रहे होते हैं बनराज कहता है सब कुछ होगा बस एक बार ये डील क्रैक हो जाए काव्या कहती है और हां वो जो अनुज कपाड़िया है ना उससे मिलने मैं भी जाऊंगी तुम्हारे साथ वहीं दूसरी ओर नंदिनी को फिर से उस नंबर से कॉल आता है नंदनी बहुत ज्यादा परेशान हो जाती है तभी समर उसके पास आता है Anupama 29 August 2021 Written Upadate नंदनी को परेशान देखकर समर नंदनी से कहता नंदू सब ठीक है ना जब से वह फोन कॉल आया तब से तो देख रहे परेशान लग रही हो

और उसके बाद नंदिनी याद करती है किस तरह से सब ने उसका फोन उठा लिया और नंदिनी उस पर चिल्ला बैठी थी नंदिनी कहती है सॉरी समर मैं तुम पर ऐसे चिल्लाना नहीं चाहती थी पर गलती से हो गया समर कहता कोई बात नहीं किया भी तो क्या हुआ प्यार में चलता है तुम्हें मेरे पर स्नेप करने की पूरा हक है Anupama 29 August 2021 Written Upadate और अगर तुम कोई प्रॉब्लम में हो तो मुझे जाने का भी पूरा हक है क्योंकि ये बात हम दोनों को पता है नंदू वो कॉल ऑनलाइन शॉपिंग से तो नहीं था इट्स ओके

मैं यहीं पर हूं तुम्हें जब भी ठीक लगे तो मुझे बता सकती हो लेकिन कोई भी प्रॉब्लम अकेले डील करने की जरूरत नहीं है क्योंकि तुम जानती हो कि हम मम्मी और बाकी सब तुम्हारे पास यहां पर हैं और अगर तुम्हें नहीं बताना है तो मत बताओ लेकिन चलो अंदर चलो सब के साथ रहो लेकिन नंदनी कहती नहीं समझ में बहुत ज्यादा थक गई हूं Anupama 29 August 2021 Written Upadate मैं थोड़ा आराम करना जाना चाहती हूं और थोड़े टाइम बाद में कॉल करती हूं यह बोलकर मंदिर जाने लगती है नंदनी को इतना परेशान देखकर समर कहता है

आखिर नंदनी को हुआ क्या है मेरी लाइफ में सबसे इंपोर्टेंट नंदिनी और मम्मी है और दोनों ही परेशान हैं यह कान्हा जी मम्मी और नंदू के लाइट की सारी प्रॉब्लम को सॉल्व कर दीजिए प्लीज एकदम इन ए हैप्पी कर दीजिए वहीं दूसरी और बापूजी अपने कारखाने को लेकर बहुत परेशान होते बा बापूजी को समझाने की कोशिश करती है Anupama 29 August 2021 Written Upadate और वही अनूपमा भी सोच में पड़ी रहती है तभी समर अनूपमा के पास आता रहता है क्या सोच रही है मम्मी अनूपमा कहती है कुछ नहीं यही कि मैं खुश हूं की

घर पर आई मुसीबत टल गई तभी समर कहता है कमान मम्मी आप हर चीज में बेस्ट है सिवाय झूठ बोलने के बताइए क्या फील कर रहे हैं आप आपको लगता है कारखाना बैठने का फैसला गलत है अनूप मां कहती है फैसला बिल्कुल सही है Anupama 29 August 2021 Written Upadate तभी समर कहता है तो मम्मी फिर आप उदास क्यों है अनूपमा कहती है वह जब मैं छोटी थी ना तो मेरे बाबा ने बहुत मेहनत कर के जैसे तैसे पैसे जोड़ कर मेरे लिए सोने की चूड़ियां बनाई थी बाबा जब तक थे तब तक बस चूड़ियां थी पर बाबा के जाने के बाद वो याद बन गई

हमारा सब कुछ बिक गया तब मैं नहीं रोई पर जब चूड़ियां बेचने की बात आई तो मैं बहुत ज्यादा रोई पता था कि जरूरत है बहुत जरूरत है बेचना ही पड़ेगा पर वो बात बहुत चुभ गए इससे समझ सकती हूं कि कारखाने का जाना बाबूजी को कितना चूभ रहा होगा कितना दर्द हो रहा होगा और ये दर्द में मेरी वजह से हो रहा है Anupama 29 August 2021 Written Upadate मुझे कारखाने कि नहीं मेरे बा बापुजी से हो रहा है और देखना कमर मैं ही इनके दर्द का कारण बन गयी और आज के एपिसोड का डीएम वहीं पर हो जाता है

वही कल के एपिसोड में आप सभी देखेंगे कि काव्या राखी के हाथ में 2000000 रुपए का चेक दे देती है और राखी का नेमप्लेट तोड़ कर फेंक देती है वनराज काव्या से कहता है काव्या हमें ये चेक कल देने चाहिए थे Anupama 29 August 2021 Written Upadate काव्या कहती है कल करे सो आज कर आज करे सो अब तभी राखी गुस्से में कहती हैं कि अगर ये चेक बाउंस हुआ तो फिर देखना मुझसे बुरा कोई नहीं होगा ये सब देखकर अनूपमा बहुत ज्यादा डर जाती है तो ये सब वह कल के आने वाले एपिसोड में

Anupama 29 August 2021 Written Upadate
Anupama 29 August 2021 Written Upadate
Anupama 29 August 2021 Written Upadate
Anupama 29 August 2021 Written Upadate
Anupama 29 August 2021 Written Upadate
Anupama 29 August 2021 Written Upadate

Leave a Reply